युवाओं को नौकरी देने में विफल रही है मोदी सरकार




अपने तीन वर्ष के कार्यकाल में मोदी सरकार युवाओं को नौकरी देने में पूरी तरह से विफल रही है। इस बात की पुष्टि श्रम मंत्रालय ने की है। अपने रिपोर्ट में श्रम मंत्रालय ने बताया, मोदी सरकार 2014 के अनुपात 2016 में युवाओं को रोजगार देने में 60 फीसदी विफल रही है। यदि अनुपात पर नजर दौड़ाई जाये तो पता चलता है कि नई नौकरियां के मौके में 60 फीसदी की कमी आई है। modi govt flop creating job 

स्किल डिवेलपमेंट स्कीम पर सवाल उठने लगे हैं।

बता दें 2014 में मार्केट में 4.21 लाख नए जॉब्स पैदा हुए। वहीं 2015 में केवल 1.35 लाख नई नौकरियां मार्केट में आईं। जबकि 2016 में भी लगभग 1.35 लाख ही नए जॉब्स के अवसर पैदा हुए। इससे स्पष्ट है कि मोदी सरकार युवाओं को जॉब देने में विफल रही है। modi govt flop creating job 

मात्र 2 गिलास पीने से मोटापा सहित दर्जनों बीमारियां होंगी छू मंतर

गौरतलब है अमेरिका के दौरे पर गए कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी ने इस मुद्दे को एक कार्यक्रम के दौरान उठाया था। जिसमें उन्होंने कहा था कि कांग्रेस ने जिस तरह से देश के युवाओं को निराश किया था। उससे अधिक मोदी सरकार ने युवाओं को निराश किया है। जिसका खामियाजा मोदी सरकार को भुगतना पड़ेगा। modi govt flop creating job 

डीडीए ने किया सुनील शर्मा व उनकी टीम का सम्मान

गौरतलब है श्रम विभाग के इस रिपोर्ट से मोदी सरकार के स्किल डिवेलपमेंट स्कीम पर सवाल उठने लगे हैं। इस योजना के जरिये देश में व्यापक स्तर पर जॉब मिलने की उम्मीद थी। इस योजना के तहत अब तक 30 लाख से अधिक युवाओं ने ट्रेनिंग ली है लेकिन जॉब केवल 3 लाख युवाओं को मिली है। जबकि मोदी सरकार ने इस योजना के लिए 12,000 करोड़ का बजट अलॉट किया है। modi govt flop creating job 



Leave a Reply