बिटकॉइन का हाल चिटफंड कंपनियों जैसा होगा : वित्त मंत्रालय




दुनिया भर में हलचल मचाने वाली बिटकॉइन को लेकर वित्त मंत्रालय ने पहली बार चेतावनी जारी की है। इस चेतावनी में वित्त मंत्रालय ने कहा कि बिटकॉइन एक तरह की फर्जी करेंसी है। जिसका हाल चिटफंड कंपनियों जैसा होगा। यदि कोई इसमें निवेश करना चाहता है तो वो अपनी सम्पत्ति के साथ जुआ खेल रहे है क्योंकि इसमें आय कम और जोखिम अधिक है। वही मंत्रालय ने कहा कि इसमें होने वाले धन का इस्तेमाल गैर क़ानूनी कामों में किया जाता है अथवा किया जा सकता है। इसलिए देश की जनता से अपील है कि वे बिटकॉइन में इन्वेस्ट न करें। यदि किसी ने इन्वेस्ट किया है तो उसे कॅश करा लें क्योंकि सरकार किसी भी तरह की जोखिम के लिए जिम्मेवार नहीं होगी। modi govt warned bitcoin invester

इस मामले में सरकार किसी तरह की धोखाधड़ी होने पर मदद नहीं करेगी। modi govt warned bitcoin invester

वित्त मंत्रालय ने कहा कि बिटकॉइन एक वर्चुअल करेंसी है। जिसका इस्तेमाल टेरर फंडिंग, स्मगलिंग, ड्रग्स और मनी लॉन्ड्रिंग जैसे गैर कानूनी कार्यो में हो सकता है। इसके लिए रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया ने इसके व्यापार के लिए कोई लाइसेंस जारी नहीं किया है। यदि कोई व्यक्ति इसमें निवेश करता है तो वो गैर क़ानूनी है। इसके बाबजूद कोई इन्वेस्ट करता है तो इस मामले में सरकार किसी तरह की धोखाधड़ी होने पर मदद नहीं करेगी। modi govt warned bitcoin invester

बाल बाल बचे पीएम मोदी

इस बारे में भारतीय रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया ने निर्देश जारी किया है कि बिटकॉइन में इन्वेस्ट करने की जोखिम निवेशकों को खुद उठाना होगा। जबकि मोदी सरकार ने भी कहा है कि किसी भी प्रकार की धोखधड़ी के लिए सरकार जिम्मेवार नहीं होगी। अतः आप सभी से आग्रह है कि  बिटकॉइन में इन्वेस्टमेंट सोच समझकर करे क्योंकि bitcoin Investments are subject to Market Risks! modi govt warned bitcoin invester

पेशाब में संक्रमण जलन का इलाज