मोदी की मेहरबानी है कि केजरीवाल अब भी दिल्ली के सीएम बने है




अरविंद केजरीवाल लगातार केंद्र सरकार पर आरोप जड़ते रहे लेकिन केंद्र ने संयम बरत कर उन्हें लोकतांत्रिक तरीके से पटखनी दे दी है।दिल्ली नगर निगम चुनाव में आम आदमी पार्टी को धूल चटा दी है। उसके बाद अब तो दिल्ली सरकार पूरी तरह से केंद्र की मेहरबानी पर ही टिकी है। आम आदमी पाटी के पहले से 21 विधायकों की भविष्य ऑफिस ऑफ प्रोफिट के जजमेंट पर आने तक ही है। आम आदमी पार्टी के कई विधायकों पर आपराधिक मामले चल रहे हैं। modi ki meharbani 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बड़े संयम से काम लिया

ऐसे में जब चाहे तो केंद्र सरकार यहां राष्ट्रपति शासन लगा सकती है। जिसको जनता का भी सहयोग मिलेगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पूरे देश में जिस प्रकार से जनादेश मिला है ऐसे में कहीं से भी विरोध के स्वर नहीं उठेंगे। लेकिन प्रधानमंत्री लोकतांत्रिक मूल्यों में विश्वास करते हैं और आम आदमी पार्टी को खुद व खुद अपनी किए गए कार्यों से गिरने तक छोड़ दिए हैं। modi ki meharbani 

जिस प्रकार से दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल बिना किसी सबूत के कभी डिग्री मामले में प्रधानमंत्री पर सवाल उठाए हैं तो वित्त मंत्री अरुण जेटली पर भी आरोप जड़े हैं जिसपर मानहानि का केस अदालत में चल रहा है। अरविंद केजरीवाल ने लगातार केंद्र सरकार से असहयोग करने का आरोप जड़ा है और लगातार पंगे लेते रहे हैं। लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बड़े संयम से काम लिया। और जिस प्रकार से नगर निगम चुनाव में पटखनी दी है। modi ki meharbani 

मेरे पास जादू की छड़ी है जिसे मैं गुजरात चुनाव में इस्तेमाल करूँगा : राहुल गाँधी

ऩिश्चिततौर पर चारों तरफ से यही मांग उठ रही है कि अरविंद केजरीवाल इस्तीफा दें। प्रधानमंत्री जब चाहे यहां राष्ट्रपति शासन लगा सकते हैं लेकिन कोई ऐसा मौका नहीं देना चाहेंगे कि अरविंद केजरीवाल आंदोलन कर जनता को अपने पक्ष में कर ले जाएं। modi ki meharbani 

इसलिए अरविंद केजरीवाल अपनी कारनामे से ही अब उनके विधायक और सांसद छोड़ने को मजबूर हो जाएंगें। जिस प्रकार से नगर निगम परिणाम आते ही कई विधायक ने अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधा तय है कि अब तो वे मोदी की ही मेहरबानी है कि वे सीएम बने हुए हैं। modi ki meharbani