जानिए मोदी और ट्रम्प की मुलाकत से चीन क्यों है खुश !




प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अभी अमेरिकी यात्रा पर हैं जहां राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से उनकी मुलाकात है। अमेरिकी राष्ट्रपति ने नरेंद्र मोदी के लिए विशेष स्वागत रखा है। जहां कई अहम मुद्दे आतंकवाद, 1वीजा सहित निवेश के द्वीपक्षीय मुद्दे पर चर्चा होगी। modi trump today meeting 

भारत और अमेरिकी के बीच द्वीपक्षीय व्यापार वार्ता भी होंगे

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से 26 जून को मुलाकात होने वाली है। दोनों नेताओँ की मुलाकात पर विश्वभर के लोगों की नजर है। नरेंद्र मोदी की अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से पहली मुलाकात है। दोनों नेताओं की आतंकवाद जैसे मुद्दे पर एक से नजरिए हैं जिसको लेकर खास चर्चा होने वाली है। डोनाल्ड ट्रंप ने किसी राष्ट्राध्यक्ष के सम्मान में पहली बार वर्किंग डिनर का आयोजन किया गया है। modi trump today meeting 

अमेरिकी प्रशासन मोदी के लिए खास आयोजन किए हैं जिसमें ट्रंप खुद व्हाइट हाऊस में उनका स्वागत करेंगे। दोनों देश के बीच आतंकवाद और सुरक्षा से लेकर विभिन्न मुद्दों पर द्वीपक्षीय वार्ता होगी। डोनाल्ड ट्रंप जिस प्रकार से आतंकवाद पर सख्त रवैया अपनाया उसको लेकर भारत की पहले से सहमति है। modi trump today meeting 

ट्रंप ने मदर ऑफ बम्स भी अफगानिस्तान के उस इलाके में गिराए जहां आतंकी ठिकाने हैं। डोनाल्ड ट्रंप 1 वीजा को लेकर काफी सख्त रवैया अपनाने वाले हैं जिसको लेकर कहा जा रहा है कि भारत को काफी नुकसान होगा। इन सभी मुद्दों पर चर्चा होने की संभावना है। अमेरिका पेरिस जल समझौते से अलग यह कहकर हो गया कि भारत पर्यावरण पर गंभीरता से कार्य नहीं करता है जबकि उसे काफी सहायता विदेशों से मिल रहे हैं । modi trump today meeting 

चीन ने कैलाश मानसरोवर की यात्रा पर लगाई रोक

इस समझौते से अमेरिका के अलग होने से भारत में निवेश में काफी फर्क पड़ने वाला है इस मुद्दे पर दोनों देशों के बीच चर्चा होने की संभावना है। भारत और अमेरिकी के बीच द्वीपक्षीय व्यापार वार्ता भी होंगे। जो अभी सौ अरब डॉलर है जिसें 500 अरब डॉलर तक ले जाने की बात कही जाएंगी। इसके लिए दोनों देश के बीच कई समझौते भी होंगें। modi trump today meeting