मोदी की चार धाम यात्रा modi will visit four continents



महज 144 घंटो में मोदी करंगे चार महादेशों की यात्रा

तुषार भट्ट, modi will visit four continents
देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अगले कुछ दिनों में चार देशों की यात्रा करने वाले है। उनकी इस यात्रा का पहला पड़ाव 4 जून को अफगानिस्तान से शुरू होगा।आपको बता दे कि पिछले साल यानि मार्च 2015 को क़तर के उद्दोगपति आमिर शेख तमीम बिन हमद अल थानी ने मोदी को क़तर आने का न्योता दिया था। जिसे मोदी ने स्वीकार कर लिया था। modi will visit four continents

इस क्रम में पीएम मोदी 4 जून को क़तर का दौरा करेंगे जहाँ मोदी क़तर के राजनयिकों सहित आमिर शेख तमीम बिन हमद अल थानी के साथ द्विपक्षीय वार्ता होगी। क़तर भारत को प्राकृतिक गैस उपलब्ध करने वाला एक बड़ा देश है। वही पीएम मोदी भारत-क़तर के राजनियकों संबंध के अलावा वहां से और निवेश जुटाने की कोशिश करेंगे।

ये भी पढ़ें   महज 97 घंटो में तीन देशो की यात्रा कर मोदी ने बनाया विश्व कीर्तमान

पीएम मोदी की आगामी चार देशो की यात्रा की पुष्टि करते हुए विदेश मंत्रालय ने बताया की क़तर विकास में भारत का सबसे महत्वपूर्ण व्यापारिक साझेदार है।जिसके साथ मिलकर भारत का साल 2014-15 में 15 अरब डॉलर से अधिक द्विपक्षीय व्यापर रहा। क़तर देश हमारी एलएनजी की ज़रूरतों को पूरा करता है। इसके आलावा यह हमें कच्चा तेल देने वाला एक प्रमुख देश है। साथ ही क़तर में तक़रीबन 7 लाख भारतीय रहते है जो भारतीय समुदायों का सबसे बड़ा हिस्सा है।

पीएम मोदी दो दिन की यात्रा समापन के बाद 6 जून को सीधा स्विट्ज़रलैंड पहुंचेंगे जहाँ टेक्नोलॉजी और निवेश पर बात होगी। स्विट्ज़रलैंड के लिए भारतीय पीएम नरेंद्र मोदी का यह दौरा अहम है क्योंकि भारत की अर्थव्यवस्था आज के समय में अपने चरम पर है ऐसे में सभी देश के साथ व्यापार को इच्छुक है।

स्विटरजलैंड की यात्रा समाप्त करने के पश्चात मोदी अमेरिका जाएंगे। मोदी और अमेरिका के लिए यह दौर ऐतिहासिक रहने वाला है। मोदी 7-8 जून को प्रधानमंत्री सीधा अमेरिका जाएंगे यह उनका 4 अमेरिकी दौर होगा इस दौरान वे सांसद के संयुक्त सत्र को भी संबोधित करेंगे और दिग्गज अमेरिकी कंपनियों से भी मिलेंगे। 9 जून को अमेरिका से मोदी जाएंगे मेक्सिको जिसके साथ भारत के ववसयिक सम्बन्ध काफी तेज़ी से बढ़ रहे है और खबर है की 10 जून को मोदी भारत लौट आएँगे।  मोदी की चार धाम यात्रा modi will visit four continents in just 144 hours