एक सच्चा मुस्लमान कभी जय श्री राम नहीं बोलेगा : आज़म खान




राम मंदिर को लेकर देश में कई संगठन आगे आई है। इस कड़ी में अब एक मुस्लिम मंच ने आगे आकर सबको हैरत में डाल दिया। अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर एक मुस्लिम कार सेवक मंच आगे आया है। इस मंच के ऱाष्ट्रीय अध्यक्ष आजम खान की अगुआई में मुस्लिम कार सेवक एक ट्रक ईंट लेकर अयोध्या पहुंच गए। ये लोग लखनऊ से आए थे। musalman kabhi nahi jai shree ram bolega

इस मंच का कहना है कि अब राम लला टेंट में नहीं रहेंगे इनके लिए हम ईंट लेकर आए हैं और राम मंदिर का निर्माण हो। भगवान राम में मुस्लिमों की पूर्ण आस्था है जिसे मंदिर निर्माण के लिए हमलोग पूर्ण रूप से तैयार हैं। अब इसमें देरी नहीं होनी चाहिए। निश्चिततौर पर मंदिर निर्माण से देश का विकास होगा और दो समुदाय के बीच पनपे नफरत भी खत्म हो जाएगी। musalman kabhi nahi jai shree ram bolega  

मंदिर निर्माण की अड़चनें समाप्त हो जाएगी।

हमलोग राम मंदिर के निर्माण के पक्ष में हैं। इसपर राजनीति नहीं होनी चाहिए। आजम खान ने कहा कि मुस्लिम समाज अब जाग गया है और अब हमलोगो तैयार हैं। गौतरलब है कि इस मुस्लिम कार सेवक मंच के पचास से ज्यादा लोग शामिल थे। राम मंदिर को लेकर अब गतिविधि तेज हुई है। जब से न्यायालय ने यह कहा है कि मंदिर के निर्माण के लिए आपसी सहमती तैयार किया जाना चाहिए ऐसे मसले को समाज में बैठकर ही सुलझा लिया जाना चाहिए। musalman kabhi nahi jai shree ram bolega  

मोदी की जी हजूरी भी मुलायम के काम नहीं आई घर पर पड़े बिजली विभाग के छापे

जिसके बाद कई मुस्लिम संगठन आगे आए हैं तो कई संगठन ने यह कहकर विरोध किया है कि इस मसले को न्यायालय ही सुलझाए। जब से योगी आदित्यनाथ की सरकार प्रदेश में बनी है तब से ऐसे कयास लगाए जा रहे हैं कि अब मंदिर निर्माण में ज्यादा कुछ अड़चने नहीं आएंगी। निश्चिततौर पर जिस प्रकार से अब कई मुस्लिम संगठन इस झगड़े को सुलझाने के लिए आगे आई हैं तो तय है कि इसका समाधान जल्द ही निकलेगा। और मंदिर निर्माण की अड़चनें समाप्त हो जाएगी। musalman kabhi nahi jai shree ram bolega