उत्तराखंड में रहना है तो मुसलमानों को वन्दे मातरम कहना होगा : बीजेपी सरकार




वंदे मातरम को लेकर राजनीति होती रही है। अब जबकि उत्तराखंड में भाजपा की सरकार है तो निश्चित तौर पर अपने ऐजेंडे लागू करना चाहेंगी। जिस प्रकार से मंत्री के बयान आ रहे हैं इससे तो यही प्रतीत हो रहा है। उत्तराखंड में भाजपा की सरकार बनी है लेकिन देश भर में ज्यादा चर्चा में नहीं रही। बल्कि उत्तर प्रदेश में योगी सरकार की ही चर्चा होती रही हैं। लेकिन जिस तरह से उत्तराखंड में तकनीकी शिक्षा मंत्री धन सिंह रावत ने एक तकनीकी कॉलेज में कहा है कि यहां रहना है तो वंदे मातरम कहना होगा। musalman will say vande matram 

अब मुस्लिम समुदाय को भी वंदे मातरम कहने का दवाब होगा।

दरअसल मुस्लिम समुदाय इस गीत को खास तौर पर हिंदू से संबंधित मानते हैं जिसके कारण इसको गाने से परहेज करते रहते हैं। यहां तक कि जहां भी वंदे मातरम होता है तो वहां उनका एतराज भी होता है। वहीं प्रधानमंत्री के कार्यक्रम हो या भाजपा का कार्यक्रम वंदे मातरम का गान अवश्य होता है। musalman will say vande matram 

उत्तराखंड में अभी नई नई सरकार का गठन हुआ है और धन सिंह रावत ने अपना बयान मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के मौजूदगी में दिया है तो तय है कि सरकार की पूर्ण इसमें सहमति है। निश्चिततौर पर प्रदेश में हिंदू के ऐजेंडे को भले ही लागू करने का दवाब नहीं है लेकिन ऐसे बयान देकर उत्तराखंड सरकार अपनी नीतियों का खुलासा कर दी है। musalman will say vande matram 

ममता ने की बंगाल में राम और हनुमान में युद्ध कराने की कोशिस

ऐसे में अब मुस्लिम समुदाय को भी वंदे मातरम कहने का दवाब होगा। लेकिन जिस प्रकार से लगातार मुस्लिम समुदाय अब देश में सरकार की हां में हां मिला रही है तो तय है कि आने वाले दिनों में वंदे मातरम पर भी उनकी सहमति बनेगी। लेकिन अभी कुछ भी इस पर कहना जल्दीबाजी होगी। तकनीकी शिक्षा मंत्री ने ऐसे बयान दिए हैं तो तय है कि आने वाले दिनों में स्कूलों में भी अनिवार्य रूप से इसे लागू किया जा सकता है। जिसका भले ही विरोध हो लेकिन सरकार इसे लागू करने पर विचार करेगी musalman will say vande matram