मुसलमान हिंसा करना छोड़े नहीं तो धरती पर मुसलंमान की नस्ल नहीं दिखेगी : डोनाल्ड ट्रम्प




अमेरिका ने दुनिया भर के मुसलमानों को रमजान की मुबारकबाद दिया है और यह भी संदेश दिया है कि हिंसा से इन्हें दूर रहने की जरूरत है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने मुस्लिमों को रमजान की मुबारकबाद दी है साथ ही नसीहत भी दे डाली है कि दुनिया भर के मुस्लिमों को हिंसा का रास्ता छोड़ना चाहिए। दुनियाभर से आतंकवाद को खत्म करने में मदद करनी चाहिए। musalmano hinsa karna chhodo

रविवार को पहला रोजा है

उन्होंने कहा क रमजान हिंसा रोकने की सीख देता है। जिसको समझने की जरूरत है। डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि रमजान हमें यही सीख देता है कि हिंसा खत्म की जाए। और शांति स्थापित की जाए। हम गरीबी से लड़ने की जरूरत है और जो देश जंग में फंसे हैं वहां भी शांति स्थापित हो। musalmano hinsa karna chhodo

गौरतलब है कि डोनाल्ड ट्रंप के राष्ट्रपति बनने के बाद यह पहला रमजान है और उनका यह पहला मुस्लिमों को संदेश है जिसमें भाईचारे की बात कह रहे हैं। इसके पहले आंतकियों का साथ देने वालों को इन्होंने हूर का रास्ता दिखाने की बात कह चुके हैं। डोनाल्ड ट्रंप ने अपने खास मैसेज में मैनचेस्टर हमें हुए आतंकवादी हमले और मिस्त्र में किश्चियन्स पर हमले पर दुख भी जताया है। musalmano hinsa karna chhodo

डोनाल्ड ट्रंप अभी हाल ही में मुस्लिम देशों के सम्मेलन में गए थे

उन्होंने कहा कि इस तरह के हमले रमजान के सिद्धांतों के खिलाफ है। गौरतलब है कि आतंकवाद को लेकर डोनाल्ड ट्रंप अपने चुनावी प्रचार में मुद्दा बनाया था जिसको लेकर ऐसी आशंका थी कि अमेरिका कड़े कदम उठाएगा। हालांकि इन्होंने अफगानिस्तान पर कई आतंकी इलाके में मदर ऑफ बंम्स से हमले भी करवाए। जिसमें कई आंतकी ढेर हो गए। musalmano hinsa karna chhodo

सहारनपुर दंगा पर अखिलेश ने योगी पर कसा तंज़ कहा हम तो डूबे है सनम तुमको भी ले डूबेंगे

डोनाल्ड ट्रंप अभी हाल ही में मुस्लिम देशों के सम्मेलन में गए थे जहां उन्होंने आतंकवाद और उनकी विचारधारा को खत्म करने का संदेश दिया था। गौरतलब है कि अमेरिकी राष्ट्रपति का रमजान पर विश्व भर में शांति स्थापित करने के लिए काफी अहम संदेश है। रमजान रविवार से शुरुआत हो रही है। यानी रविवार को पहला रोजा है। musalmano hinsa karna chhodo