नाबालिग पत्नी के साथ सेक्स करना रेप माना जाएगा : सुप्रीम कोर्ट





देश की शीर्ष अदालत ने एक बड़ा फैसला सुनाते हुए कहा है कि यदि पति नाबालिग पत्नी के साथ शारीरिक संबंध स्थापित करता है। तो ये रेप है। उस व्यक्ति पर भारतीय कानून सहिंता के तहत क़ानूनी करवाई की जाएगी। सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले से केंद्र सरकर को गहरा झटका लगा है। क्योंकि केंद्र सरकार पूर्व में बाल विवाह की हिमाकत कर चुकी है। सरकार ने कहा था कि विवाह संस्था की रक्षा करने की जिम्मेवारी हम सबकी है। nabalig patni ke sath sex rape hai 

भारत में प्राचीन काल से बाल विवाह की प्रथा है। जिस पर कोई विवाद नहीं होना चाहिए। वही सुप्रीम कोर्ट ने महिलाओं के अधिकार हनन का हवाला देते हुए कहा है कि नाबालिग पत्नी के साथ शारारिक संबंध एक दुष्कर्म है। ऐसे समय में पति द्वारा शारीरिक संबंध स्थापित करने की चेष्टा की जाती है। जब नाबालिग पत्नी का शारीरिक विकास नहीं हुआ रहता है। nabalig patni ke sath sex rape hai 

आप बताओ क्या मैं वाकई में हिन्दू विरोधी और मुस्लिम प्रेमी नेता हूँ !

बता दें पति-पत्नी के बीच यौन संबंध के लिए सहमति की उम्र को बढ़ाए जाने की मांग वाली याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई की है। इस बारे में जब सुप्रीम कोर्ट ने सरकार को स्प्ष्टीकरण देने के लिए कहा गया था। तो सरकार ने इसे उचित ठहराया था। nabalig patni ke sath sex rape hai 

हर दर्द की दवा है लोंग

वही भारतीय कानून में लड़कियों की शादी कम से कम 18 साल की उम्र के बाद होनी चाहिए। वही लड़कों की शादी 21 वर्ष के बाद होनी चाहिए। हालांकि, भारतीय कानून बाल विवाहों को स्वीकार करती है। सहमित पर शारीरिक संबंध बनाने की उम्र 18वर्ष है। जबकि 15 वर्ष से कम उम्र की पत्नी के साथ शारीरिक संबंध बनाने को अपराध नहीं माना गया है। nabalig patni ke sath sex rape hai 



Leave a Reply