नवाज और मुशर्रफ को तो वाजपेयी ने ही मरवा दिया होता





बोर्डर पर लगातार पाकिस्तान सीज फायर का उल्लंघन कर रहा है। सेना इसका मुंहतोड़ जवाब भी दे रही है। पाकिस्तान को भारत ने बार बार पटखनी दी है। करगिल युद्ध में भी पाकिस्तान को हार का सामना करना पड़ा था। भारतीय सेना विजयी हुई थी। nawaz,musarraf ko marwa dete vajpayee

nawaz,musarraf ko marwa dete vajpaye कारगिल युद्ध में मारे जाते नवाज़- मुशर्रफ

वैसे करगिल युद्ध से जुड़ी हुई एक खबर का खुलासा इंडियन एक्सप्रेस ने किया है। उसका दावा है कि अगर भारतीय जगुआर का निशाना लग गया होता तो परवेज मुशर्रफ और नवाज शरीफ दोनों मारे जाते। लेकिन ये दोनों बाल बाल बच गए। गौरतलब है कि भारत और पाकिस्तान के बीच मई और जुलाई 1999 के बीच कश्मीर के करगिल जिले में युद्ध हुआ था। nawaz,musarraf ko marwa dete vajpayee





खबर के मुताबिक 24 जून 1999 की सुबह जब लड़ाई एक दम चरम पर था। तभी भारतीय जगुआर ने नियंत्रण रेखा के ऊपर उड़ान भरी और इस समय लेजर गाइडेड सिस्सटम से बमबारी जगुआर विमान निशाना साध रहा था। उसी समय पीछे से आ रही दूसरे विमान को बमबारी करनी थी लेकिन विमान का निशाना चूक गया। nawaz,musarraf ko marwa dete vajpayee

कहां गया मोदी का 56 इंच का सीना, दस दिन भी नहीं लड़ सकता पाक या चीन से

इंडियन एक्सप्रेस के खबर के मुताबिक जिस ठिकाने पर निशाना साधा गया था उस समय वहीं पर प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और सेना प्रमुख परवेज मुशर्रफ थे। लेकिन दोनों का निशाना चुकते ही बच गए। विदित हो कि बम गिराने के समय इस बात की जानकारी नहीं थी, वे दोनों वहां मौजूद हैं। nawaz or musarraf ko marwa dete vajpayee

इस खबर को इसलिए सार्वजनिक नहीं किया गया क्योंकि इसका व्यापक प्रतिक्रिया होती। लेकिन अब जब दोनों देशों के बीच एक बार फिर तनातनी है इंडियन एक्सप्रेस ने खुलासा कर दिया। गौरतलब है कि इस करगिल युद्ध में पाकिस्तान की सेना और कश्मीरी उग्रवादियों ने नियंत्रण रेखा पार करके भारत की जमीन पर कब्जा करने की कोशिश की थी। nawaz or musarraf ko marwa dete vajpayee

ताम्बे बर्तन में पानी पीने के चौकाने वाले फायदे

लेकिन पाकिस्तान को हार का सामना करना पड़ा था। जबकि पाकिस्तान बार बार यह कह रहा है कि लड़ने वाले सभी कश्मीरी उग्रवादी थे। लेकिन युद्ध में बरामद हुए दस्तावेजों और पाकिस्तानी नेताओं के बयानों से यह साबित हो गया है कि पाकिस्तान की सेना प्रत्यक्ष रूप से करगिल युद्ध में शामिल थी। इस करगिल युद्ध में तीस हजार भारतीय सैनिक और पांच हजार घुसपैठिए युद्ध में शामिल हुए थे। nawaz,musarraf ko marwa dete vajpayee

इस युद्ध के बाद ही पाकिस्तान में तख्ता पलट हो गया। फिर से बदले घटनाचक्र के बाद नवाज शरीफ प्रधानमंत्री पद पर सुशोभित हुए और बोर्डर पर लगातार सीज फायर का उल्लंघन जारी है। जिसका मुंह तोड़ जवाब भारतीय सेना दे रही है। nawaz,musarraf ko marwa dete vajpayee

loading…