30 दिन के अंदर नक्सलियों के नस्ल को नेस्तनाबूत कर देंगे : राजनाथ सिंह




नक्सली हमले को लेकर सरकार कठोर कदम उठाने के संकेत दिए हैं। इस तरह के नक्सली हमले को अब बर्दाश्त नहीं करेगी सरकार। केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि नक्सली हमले नृशंस अपराध है जिसको लेकर सरकार कठोर कदम उठाएगी। सरकार लगातार नजर रखे हुए है। राजनाथ ने कहा कि सरकार विभिन्न राज्यों के अधिकारियों से संयुक्त बैठक करेगी इसके लिए तिथि भी तय कर दिया गया है। naxaliyon ko nahi chhodenge 

नक्सली समस्या का हल निकाला जा सके

आठ मई को खास रणनीति बनाने के लिए सरकार तैयार है। नक्सली जिस प्रकार से हमले किए हैं इससे साफ हो गया है कि यह हमला बौखलाहट में आकर किया गया है। सरकार लगातार विकास के कार्य कर रहे हैं। लेकिन नक्सली इसका विरोध कर रहे हैं। जनजातियों के उत्थान के लिए सरकार तत्पर है। naxaliyon ko nahi chhodenge 

समाज के मुख्यधारा से सबको जोड़ना सरकार का लक्ष्य है। जिस प्रकार से नक्सली ने हमले किए हैं हम अब इन्हें सफल नहीं होने देंगे। सरकार अपनी रणनीति में बदलाव लाने की जरूरत पड़ी तो हम जरूर करेंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी इस तरह के हमले को जवाब देने कहा है। उन्होंने कहा है कि जवानों पर हमले को व्यर्थ नहीं जाने देंगे। naxaliyon ko nahi chhodenge 

गौरतलब है कि चार सौ हथियारबंद नक्सलियों ने सीआरपीएफ के जवानों पर नक्सली हमले किए जिसमें 25 जवान शहीद हो गए। यह हमला 2013 के हमला के बाद सबसे बड़ा हमला है। 2010 में भी नक्सली हमले हुए थे जिसमें 76 जवानों की मौत हो गई थी। naxaliyon ko nahi chhodenge 

सेना की शहादत बेकार नहीं जाएगी : पीएम मोदी

इस बार जो हमले हुए उसमें जवान खाने की तैयारी कर रहे थे उसी दौरान घात लगाकर नक्सलियों ने हमले कर दिए। केंद्र सरकार लगातार नक्सलियों के समस्या को लेकर सजग रही है लेकिन नक्सली लगातार हमले कर दे रहे हैं जिससे सरकार अब ऩई रणनीति बनाकर आगे बढ़ना चाह रही है। जिससे की नक्सली समस्या का  हल निकाला जा सके। naxaliyon ko nahi chhodenge