जानिए उत्तर कोरिया और अमेरिका में युद्ध हुआ तो भारत को कितना नुकसान होगा




उत्तर कोरिया पर संयुक्त राष्ट्र द्वारा आर्थिक प्रतिबंध लगा दिए गए है जिसके चलते कई राष्ट्रों ने अपने द्विपक्षीय व्यापार को बंद कर दिया। जिसमें भारत भी शामिल है। भारत का उत्तर कोरिया से व्यापारिक संबंध काफी प्रगाढ़ रहे हैं। लेकिन संयुक्त राष्ट्र के प्रतिबंध के कारण भारत ने भी इसे लागू कर दिया। north korea america war 2018

अमेरिका पर हमले के वीडियो जारी कर सनसनी फैला दी है

गौरतलब है कि उत्तर कोरिया के साथ भारत का कारोबार 7.65 करोड़ डॉलर का निर्यात का था जबकि इस दौरान भारत ने वहां से 13.25 करोड़ डॉलर मूल्य के सामानों का आयात भी किया था। अगर उत्तर कोरिया के खिलाफ युद्ध हुआ तो व्यापारिक रूप से भारत को काफी नुकसान होगा। north korea america war 2018

भारत मुख्य रूप से उत्तर कोरिया को खाद्य तेल, कपास, कपड़ा, खनिज अयस्क, ड्रग्स, रसायन, रत्न आभूषण, धातु और मांस का निर्यात करता है। वहीं उत्तर कोरियाई सरकार भारत से ज्यादा से ज्यादा कंज्यूमर उत्पाद की मांग रही है। अब जबकि उत्तर कोरिया पर प्रतिबंध लागू रहेगा जिसके कारण भारत को काफी नुकसान का सामना करना पड़ेगा। north korea america war 2018

उत्तर कोरिया लगातार परमाणु परीक्षण कर रहा है

भारत अभी विभिन्न उत्पादों के कारोबार पर पाबंदी लगाई गई है, उनमें रक्षा संबंधी उपकरण, टैंक, सशस्त्र वाहन, सशस्त्री एयरक्राफ्ट, हेलीकॉफ्टर, मिसाइल और हल्के हथियार हैं। उत्तर कोरिया पर अगर प्रतिबंध लागू रहा तो दोनों देश के बीच पुलिस और मिलिट्री ट्रेनिंग, विमानिकी, आण्विक इंजीनियरिंग और भौतिक विज्ञान पर ट्रैनिंग नहीं हो पाएंगें। north korea america war 2018

कश्मीर को स्वर्ग बनाने के लिए बलूचिस्तान की आजादी जरुरी है : सुब्रमण्यन स्वामी

भारत एक्ट ईस्ट पॉलिसी के तहत मजबूत अर्थव्यवस्था वाले जापान और दक्षिण कोरिया से संबंध प्रगाढ़ किए जिसको लेकर उत्तर कोरिया ने भी अपना हाथ बढ़ाया था। उत्तर कोरिया के पाकिस्तान से काफी अच्छे संबंध हैं लेकिन भारत ने कूटनीति स्तर पर उत्तर कोरिया से संबंध रखे हुए है। उत्तर कोरिया लगातार परमाणु परीक्षण कर रहा है जिसको लेकर अमेरिका ने उसे कड़ी चेतावनी दी है। वही उत्तर कोरिया ने अमेरिका पर हमले के वीडियो जारी कर सनसनी फैला दी है। north korea america war 2018