कैश की समस्या को दूर करने के लिए अब बैंक खुद कैश लेकर पहुंचेगा आपके घर।

अब बैंको से कैश निकालना होगा आसान, यह ही नहीं बल्कि अब बैंक खुद आपके घर आकर आपको कैश देगा।  overcome problem cash, bank own your home

जी हाँ अपने बिलकुल सही सुना एक और जहां एकाएक केंद्र सरकार के 500 और 1000 रुपये ने नोट बंद करने के फैसले की प्रशंसा हो रही हैं वहीँ दूसरी ओर लोगो में अपने पेसो को बैंक से चेंज करवाने के लिए परेशानी और चिंता देखि जा रही हैं जिसको देखते हुए केंद्र सरकार ने इससे निपटने का भी इंतजाम कर लिया हैं।

डिपार्टमेंट ऑफ इकनॉमिक अफेयर्स (डीईए) के शक्तिकांत ने सोमवार को एक प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि सरकार ने देशभर में एटीएम की तरह ही काम करने वाले माइक्रो एटीएम की संख्या बढ़ाने का फैसला लिया है। चलिए जानें माइक्रो एटीएम की विशेषताए

माइक्रो एटीएम असल में कार्ड स्वाइप मशीन है। शॉपिंग के दौरान आप क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड स्वाइप कराकर भुगतान करते होंगे। इस मशीन में भी आप कार्ड स्वाइप करके अपने बैंक खाते से पैसा निकाल सकते हैं।

हालांकि इस मशीन का काम साधारण स्वाइप मशीन से काफी ज्यादा है। यह मशीन जीपीआरएस के जरिए बैंक के सर्वर से जुड़ी रहती है। कुछ मशीनों में फिंगरप्रिंट सेंसर भी लगा होता है।

माइक्रो एटीएम एक छोटी सी मशीन है और इसमें कार्ड स्वाइप करके आप अपने बैंक खाते से पैसा निकाल सकते हैं। स्वाइप करने के बाद मशीन जीपीआरएस के माध्यम से आपके बैंक के सर्वर से संपर्क साधती है।

आपकी केवाईसी की जांच के बाद आपके अकाउंट से पैसा डेबिट हो जाता है। हालांकि इस मशीन से रुपये निकलने की बजाय, इसके लिए मशीन के साथ आया बैंक मित्र आपको कैश देता है।
माइक्रो एटीएम बैंकिंग सिस्टम से जरूर जुड़ा है, लेकिन यह एटीएम नहीं है। माइक्रो एटीएम के साथ एक बैंक कर्मचारी या बैंक मित्र कैश लेकर ग्राहक तक पहुंचता है और उपभोक्ता को कैश मुहैया कराता है।

नोट बंदी से केजरीवाल को सबसे ज्यादा नुकसान हो रहा है इस लिए है परेशान।

ऐसे में कैश की उपलब्धता कम ही रहती है। इसके अलावा कैश लेकर सफर करना बैंक मित्र के लिए भी असुविधा का सबब हो जाता है। overcome problem cash, bank own your home,   overcome problem cash, bank own your home,  overcome problem cash, bank own your home,  overcome problem cash, bank own your home