मुसलमानों की रक्षा के लिए हम किसी भी देश से लड़ सकते है : पाकिस्तान




प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से मुलाकात के बाद दोनों देशों के बीच कई अहम समझौते हुए जिसमें आतंकवादी से निबटने के लिए भी समझौते हुए हैं जो पाकिस्तान को नागवार गुजर रहा है। पाकिस्तान के आंतरिक मामलों के मंत्री चौधरी निसार का कहना है कि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भारत की भाषा बोल रहे हैं। जिससे पाकिस्तान चिंतित है। pak threat trump 

दरअसल ट्रंप प्रशासन ने संकेत दिए हैं कि पाकिस्तान पर सख्त कार्रवाई हो सकती है। अमेरिका पहले भी पाकिस्तान को चेतावनी दे चुका है कि आतंकवादियों को सहायता देना बंद करे। ट्रंप प्रशासन ने पहले भी वैसे मुस्लिम राष्ट्रों पर अमेरिका आने पर प्रतिबंध लगाया था । pak threat trump 

pak threat trump पाकिस्तान के लिए खतरे की घंटी है

 जिसके बाद पाकिस्तान ने लश्कर ए तैयबा के आतंकवी सरगना हाफिज सईद पर कार्रवाई करते हुए उसे नजरबंद कर दिया था। उसके बाद भी पाकिस्तान की धरती से आतंकवादी गतिविधि जारी है। जिसको लेकर भारत ने अमेरिका को आगाह किया है जिसके बाद ट्रंप प्रशासन ने सख्ती दिखाई है। pak threat trump 

भारत और अमेरिका के साझा बयान में साफ तौर पर पाकिस्तान को संदेश दे दिया गया कि वह सीमा पार आतंकवादी गतिविधियों पर रोक लगाए। साथ ही पाकिस्तान को साफ कह दिया गया है कि 26/11 और पठानकोट हमले के दोषियों के खिलाफ कार्रवाई में तेजी लाए और उन्हें सजा दिलाए। pak threat trump 

पाकिस्तान कश्मीरी मुद्दा उछालना चाह रहा है

नरेंद्र मोदी से मुलाकात के पहले ही हिजबुल मुजाहिदीन के आंतकी सरगना सैयद सलाउद्दीन को अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी घोषित कर उसपर प्रतिबंध लगाने की घोषणा से पाकिस्तान को साफ संदेश दिया गया कि वे सख्ती से आतंकवादियों से निपटारा करे नहीं तो अमेरिका अपने तरीके से कार्रवाई करेगा। जिसको लेकर चौधरी निसार ने कहा कि अमेरिका भारत की बोली बोल रहा है। उसे कश्मीरियों के आम जनता के लहू से कोई लेना देना नहीं है। pak threat trump 

पीएम मोदी ने 3 देश की यात्रा 3 दिन में कर निपटाएं 33 कार्यक्रम !

पाकिस्तान आतंकवादियों पर कार्रवाई करने पर तिलमिला गया है और वह कश्मीर मुद्दा उछालने में लगा है। चौधरी निसार का कहना है कि मानवाधिकारों की सुरक्षा के लिए बने अंतरराष्ट्रीय कानून भी कश्मीर पर लागू नहीं होते। pak threat trump 

दरअसल पाकिस्तान अमेरिका को भटकाने के लिए कश्मीरी मुद्दा उछालना चाह रहा है। जिससे की उसके द्वारा आतंकवादियों को दी जा रही मदद को सही ठहराया जा सके। लेकिन जिस प्रकार से ट्रंप प्रशासन ने आतंकियों पर सख्ती दिखाई है इससे पाकिस्तान के लिए खतरे की घंटी है। pak threat trump 




बालों को काले,लम्बे और घने बनाने के आसान उपाय