मुंह की खाने के बाद अब कश्मीर पर शांति वार्ता चाहता है पाक




भारत के खिलाफ हमेशा से शाजिश रचने वाली पाकिस्तानी आर्मी को भी अब अंतर्राष्ट्रीय मंचों पर मुंह की खाने के बाद शान्ति वार्ता की यद् सताने लगी है. भारत को लेकर अचानक से पाकिस्तानी आर्मी के बदले सुर इसी ओर इशारा कर रहे हैं. इसका अंदाजा पाकिस्तान के आर्मी चीफ के हालिया बयान से लगाया जा सकता है. पाक आर्मी चीफ जनरल कमर जावेद बाजवा ने हाल ही में कहा है कि भारत और पाकिस्तान के विवादित मुद्दों,जिनमें कश्मीर मुद्दा भी शामिल है, को बातचीत के जरिए सुलझाया जा सकता है. पाक आर्मी चीफ का यह बयान ऐसे समय पर आया है, जब विभिन्न अंतरराष्ट्रीय मंचों पर आतंकवाद और कश्मीर मुद्दे को लेकर पाक को मुंह की खानी पड़ी है. ऐसे में बाजवा के इस बयान को कश्मीर मुद्दे पर नरम पड़े सुर के तौर पर देखा जा रहा है. Pak wants peace talks kashmir

पाकिस्तान के विवादों का शांतिपूर्ण समाधान निकाला जा सकता है Pak wants peace talks kashmir

यह बात पाक आर्मी चीफ ने काकुल में पाकिस्तान मिलिटरी अकैडमी के कडेट्स की पासिंग आउट परेड के दौरान कही. जिसकी जानकारी पाकिस्तान की आर्म्ड फोर्स की मीडिया विंग इंटर-सर्विस पब्लिक रिलेशंस (आईएसपीआर) ओर से दी गई. इस दौरान बाजवा ने कहा, ‘हमारा बेहद ईमानदारी से मानना है कि कश्मीर मुद्दे सहित भारत और पाकिस्तान के विवादों का शांतिपूर्ण समाधान निकाला जा सकता है. यह व्यापक और सार्थक बातचीत से ही संभव है.’ उन्होंने कहा, ‘हालांकि यह बातचीत किसी एक पक्ष के लिए नहीं है, लेकिन यह पूरे क्षेत्र में शांति की अनिवार्यता जरूरी है. पाकिस्तान इस तरह की बातचीत के लिए प्रतिबद्ध है, लेकिन सिर्फ सार्वभौम समानता और सम्मान के आधार पर.’ Pak wants peace talks kashmir

हालाँकि इस दौरान भी बाजवा बन्दर घुडकी देने से बाज नहीं आये. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान शांतिप्रिय देश है और सभी देशों के साथ सामंजस्य और शांतिपूर्ण सहयोग चाहता है, खास तौर पर अपने पड़ोसी देशों के साथ. उनका इशारा साफ तौर पर भारत की तरफ था. बाजवा ने आगे कहा कि शांति की इस इच्छा को किसी भी सूरत में हमारी कमजोरी नहीं समझा जाना चाहिए. हमारी सेनाएं किसी भी परिस्थिति से निपटने और उसका मुंहतोड़ जवाब देने के लिए पूरी तरह तैयार हैं. Pak wants peace talks kashmir

राम भक्त कलयुग में माता सीता को भी नहीं छोड़ते : योगेंद्र यादव

गौरतलब है कि भारत की अंतर्राष्ट्रीय स्तर की गई कोशिशों के कारण अंतर्राष्ट्रीय फाइनैंशल ऐक्शन टास्क फोर्स की ओर से मनी लॉन्ड्रिंग और टेरर फाइनैंसिंग के मामले में ग्रे लिस्ट में शामिल किया गया है. जिसके बाद से अपनी स्थिति सुधरने में लगा पाक आतंकी संगठनों पर शिकंजा कसने की तैयारी में है. इसके तहत ही उसने ऐंटी-टेरर ऐक्ट में संशोधन करने का फैसला लिया है. फरवरी में टास्क फोर्स ने पाकिस्तान को ग्रे लिस्ट में शामिल किया था, यही नहीं स्थितियों में सुधार न आने पर पाकिस्तान को ब्लैक लिस्ट करने की भी चेतावनी दी गई है. वहीं अमेरिका भी आतंकवाद के मुद्दे पर पाक को मिलने वाली कई तरह की मदद पर प्रतिबंध लगा चुका है. Pak wants peace talks kashmir

तेज़ धुप में फेस टेनिंग से कैसे बचें | Beauty tips | कालेपन का नुस्खा

एक क्लिक में पाइए देश के बाकी सभी हिस्सों सहित कश्मीर का समाचार (kashmir News In Hindi) सबसे पहले Mobilenews24.com पर। Mobilenews24.com से हिंदी समाचार (Hindi News) और अपने मोबाइल पर न्यूज़ पाने के लिए हमारा मोबाइल एप्लीकेशन डाउनलोड करने के लिए इस ब्लू लिंक पर क्लिक करें Mobilenews24.com App और रहें हर खबर से अपडेट।

Kashmir New से जुड़े हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mobilenews24.com के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।