twitter देश विरोधी तत्वों का समर्थन कर देश को तोड़ने में जुटा है : परेश रावल




प्रसिद्ध अभिनेता व सांसद परेश रावल ने अपने ट्वीट के डिलीट करने पर सफाई पेश की है। उन्होंने कहा कि वे इस लिए डिलीट नहीं किए हैं वे अपने बयान से हट गए हैं। उनका कहना है कि आज भी वे अपने बयान पर कायम हैं। गौरतलब है कि परेश रावल ने कहा था कि पत्थरबाजों को नहीं, लेखिका अंरुधति रॉय को बांध देना चाहिए। paresh rawal delete arundhati ray tweet

लोकतंत्र से अब विश्वास उठ गया है।

परेश रावल ने कहा है कि वे इसलिए डिलीट किए क्योंकि ट्वीटर कंपनी द्वारा ट्वीट को डिलीट करने का जोर दिया गया। इसलिए उन्होंने डिलीट किया है। अगर डिलीट नहीं करता तो हमारा अकाउंट ब्लॉक किया जा सकता था। paresh rawal delete arundhati ray tweet

विदित हो कि परेश रावल के इस ट्वीट के बाद कई अभिनेता और लेखक के बयान सामने आए। जिसमें कुछ ने सपोर्ट किया तो कुछ ने तीखे विरोध किए। परेश रावल के ट्वीट का विरोध प्रसिद्ध लेखिका शोभा डे ने भी किया। शोभा डे ने यह भी कहा कि चाहे तो इसपर जनमत संग्रह करा लें। paresh rawal delete arundhati ray tweet

मेजर को सम्मानित किया गया

परेश रावल को सपोर्ट करने वाले गायक अभिजित भट्टाचार्य को निशाने पर ले लिया। परेश रावल के समर्थन में प्रसिद्ध क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग भी आए थे। अरुंधति राय ने जिस तरह से विरोध किया उसपर कई और हस्तियां परेश रावल के विरोध में आ गए। अरुंधति राय कश्मीर मुद्दे पर अक्सर अपनी राय देती हैं। paresh rawal delete arundhati ray tweet

बीजेपी के सभी नेता रंडीबाज है : शहला राशिद

गौरतलब है कि सेना के मेजर नितिन लीतुल गोगोई ने जीप के बोनट पर एक कश्मीरी युवक फारुक डार को बांध कर घुमाया था। जिसके बाद मेजर को सम्मानित किया गया। मेजर ने सफाई दी कि पेट्रोल बम फेंके जा रहे थे सुरक्षा कारणों से ऐसा किया गया। हालांकि फारुक डार ने इसके बाद कहा कि उनका लोकतंत्र से अब विश्वास उठ गया है। paresh rawal delete arundhati ray tweet