जानिए आखिर क्यों 14 सितम्बर को हिंदी दिवस मनाया जाता है ?




हिंदी हमारी राज भाषा है या इसे राष्ट्रभाषा भी कह सकते है किन्तु वास्तविकता यह है कि हिंदी, हिंदुस्तान की राज भाषा है, पर क्या आप जानते है हिंदी दिवस 14 सितम्बर को ही क्यों मनाया जाता है। ऐसी कौन सी बात थी जिस कारण हिंदी दिवस को 14 सितम्बर को ही मनाना पड़ गया और अब हिंदी दिवस 14 सितम्बर को ही मनाई जाती है। इस पहलू के पीछे तथ्य छिपा है जो आज हम आपको बताने जा रहे है। people celebrate hindi day today 

हिंदी हिंदुस्तान की राज भाषा है people celebrate hindi day today 

वर्ष 1918 में महात्मा गाँधी ने हिंदी साहित्य सम्मलेन में हिंदी को राज भाषा बनाने को कहा था और फर बाद में 14सितम्बर 1949 को सविंधान सभा ने यह निर्णय लिया था की हिंदी को ही राजभाषा बनाया जाएगा। people celebrate hindi day today 

मिलिए देश के दो दिग्गज देशभक्त से जिसने लोगों को दीवाना बना दिया

इसी दिन भारतीय संविधान के भाग 17 की धारा 343  में दर्शाया गया हैं की संघ की राजभाषा हिंदी और लिपि देवनागरी होगी क्योंकि यह निर्णय 14 सितम्बर को लिया गया था इसलिए इसे हिंदी दिवस के लिए महत्वपूर्ण दिन माना गया हैं और वर्ष 1953 से ही हर साल पुरे भारत में इसे हिंदी दिवस के रूप में मनाया जाता हैं। people celebrate hindi day today 

भारत में अधिकतर लोग हिंदी भाषा बोलते और समझते हैं एक अनुमान के मुताबिक़ पुरे दुनिया में 80 करोड़ लोग हिंदी बोलते हैं वहीँ भारत के अलावा 40 से अधिक देशो के 600 यूनिवर्सिटी और स्कूल में संस्कृत पढ़ाई जाती हैं। चीन के 9 जर्मनी के सात ब्रिटेन के 4 और रूस इटली हंगरी फ्रांस तथा जापान के 2-2 यूनिवर्सिटी सहित 150 विश्व विधालयो में हिंदी कोर्स में शामिल हैं।  people celebrate hindi day today 
( सलोनी पांडेय )