हमारी मांगे पूरी करो मोदी सरकार : भारतीय मजदूर संघ




तालकटोरा स्टेडियम में भारतीय मजदूर संघ ने विश्वकर्मा जयंती पर राष्ट्रीय श्रम दिवस सम्मेलन आयोजित किया। इस कार्यक्रम में बी.एम्.एस. के 200 इकाईओ के करीब 5000 कर्मचारियों ने भाग लिया । भारतीय मजदूर संघ के राष्ट्रीय संगठन के मंत्री श्री के.पी. मिश्र ने मोदी सरकार की आलोचना करते हुए कहा की यह सरकार गरीब मजदूर की बजाए कॉर्परेट सेक्टर और अडानी अम्बानी की सोच रही है।  please fulfill indian labour demand 

सरकार मजदूर संगठनों से चर्चा नही करती है। बी.एम्.एस सरकार की पिछलग्गू नही है। इस देश की 68 करोड़ मजदूर 17 रुपये 50 पैसे में गुज़ारा करते है । आज भी मजदूरों को न्यूनतम मजदूरी नही मिल रहे है । केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली सिर्फ कागजों पर दावा करते है जब की सच्चाई यह है की गरीब गरीब होता जा रहा है और अमीर, अमीर होता जा रहा है । 50 लाख उद्योग देश में बंध हो चुके है । please fulfill indian labour demand 

समाज को सशक्त बनाने में जुटी छत्तीसगढ़ प्रशासन

उन्होंने कहां की श्रम कानून में गैर जरुरी कानून को तुरंत हटाना चाइये। सरकार के गलत नीति के समर्थन बी.एम्.एस. कभी नही करेगी। आँगनवारी और आशा को सामाजिक सुरक्षा से वंचित रखा गया है जिस एबी.एम्.एस. अबिलम्ब सामाजिक सुरक्षा देने की मांग सरकार से की है । please fulfill indian labour demand 
सरकार मजदूरों की सोचेगी तो हम, सरकार का साथ देंगे। नहीं तो सडको पर आयेंगे। श्री मिश्रा बी.एम.एस की और से दिल्ली में राष्ट्रीय श्रम दिवस के मौके पर हुए कार्यक्रम में बोल रहे थे। श्रमिको को गुज़ारा राशि मिलनी चाहिए। please fulfill indian labour demand 

इस कार्यक्रम में दिल्ली प्रान्त सहा संघ चालक श्री अलोक कुमार, श्री पवन कुमार, क्षेत्रीय संगठन मंत्री, बी.एम्.एस. प्रदेश अध्यक्ष बी.एस.भाटी, प्रदेश महामंत्री नागेन्द्र पल सिंह भी मौजूद थे। please fulfill indian labour demand 

विश्वकर्मा जयंती के अबसर पर बी.एम्.एस मजदूर अधिकार हक को पाने का संकल्प लेता है । राष्ट्रिय स्वयं सेवक संघ दिल्ली प्रान्त के सह-संघचालक अलोक कुमार जी ने बताया की भारतीय मजदूर संघ के कार्यकर्ता हमेशा त्याग करते हुए आ रहे है। please fulfill indian labour demand