मऊ में पीएम मोदी ने गुस्से में कैमरामैन को डांट कर भगाया




उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनाव 2017 के लिए पांचवे चरण का मतदान जारी है। जबकि छठे चरण के लिए चुनाव प्रचार जारी है। 27 फरवरी को पीएम मोदी ने मऊ में ‘विजय संकल्‍प’ रैली को संबोधित किया। इस रैली में एक समय ऐसा भी आया। जब पीएम मोदी गुस्से में भड़क उठे। ये गुस्सा जायज था। pm modi angry cameraman 

आपको बता दें कि जब पीएम मोदी जनसमूह को सम्बोधित कर रहे थे। उसी वक्त एक कैमरामैन ने लोगों को उकसाने के लिए कैमरा उनके तरफ कर लिया। जिससे जनसमूह शोर-गुल करने लगे। कैमरामैन ने ये हकरत कई दफा की। जिससे आम लोगों को परेशान होने लगी। पीएम मोदी की नजर कैमरामैन पर पड़ी तो उन्होंने तत्काल उस कैमरामैन को वंहा से हटने को कहा। कैमरामैन की इस हरकत से पीएम मोदी भी डिस्टर्ब हो रहे थे। pm modi angry cameraman 

डिंपल यादव के साथ बदतमीजी की थी

पीएम मोदी ने कैमरामैन को दायरे में रहकर अपने कर्तव्यों का पालन करने की सीख दी। उन्होंने कहा कि लोग आशावादी होते है, न की निराशावादी। हमें अपने कर्तव्यों को भूलना नहीं चाहिए। मीडिया का काम लोगों को सच से रूबरू कराना होता है। यदि आप अपने कर्तव्यों से भटक जायेंगे तो लोगों के दिल में आपके लिए मान-सम्मान में कमी आ जाएगी। पीएम मोदी के चेहरे पर नाराजगी साफ़ झलक रही थी। लेकिन फिर भी उन्होंने अपने गुस्से को काबू में रख भाषण देना प्रारम्भ किया। pm modi angry cameraman 

भारत का सबसे बड़ा दुश्मन आरएसएस है और उसे ख़त्म करके रहेंगे : मणिशंकर अय्यर

भाषण के दौरान वो कई बार रुके, और रैली में आये सभी लोगों का अवलोकन करने के बाद भाषण दिये। इस दरम्यान उन्होंने कई बार भाषण को रोककर पानी भी पिया।  पीएम मोदी ने अपने भाषण में लोगों से बीजेपी को वोट देने की अपील की। उन्होंने कहा कि आप सपा और बसपा को कई बार आजमा चुके है। लेकिन उन्होंने हर मौके पर आपको धोखा दिया है। इस बार बीजेपी को वोट देकर विजयी बनाये। आपका विजय श्री होगा। pm modi angry cameraman 

गौरतलब है कि इससे पूर्व भी इलाहबाद में एक रैली के दौरान सपा के समर्थकों ने डिंपल यादव के साथ बदतमीजी की थी। जिससे डिंपल यादव नाराज हो गयी थी। उन्होंने तो साफ-साफ कह दिया था कि वो इसकी शिकायत भैया से करेंगे।  pm modi angry cameraman 
( प्रवीण कुमार )