पीएम मोदी की खातिर इजरायल ने दिया चीन को धोखा





इजरायल ने भारत का हमेशा ही महत्ता दिया है। इजरायल न केवल सैन्य सहायता दे रहा है, बल्कि कूटनीति स्तर पर भी दोनों देशों की एक दूसरी की जरूरत है। जिसे इजरायल पूर्ण रूप से समर्थन करता है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 4 से 6 जुलाई तक इजरायल के दौरे पर जा रहे हैं। संबंधों में प्रगाढ़ता का दौर अटल बिहारी वाजपेयी के समय में हुआ, जो अब लगातार आगे बढ़ रहा है। भारत और इजरायल पिछले कुछ समय से एक दूसरे के काफी करीब आ गए हैं। pm modi Israel visit 

 गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहले भारतीय प्रधानमंत्री होंगे जिनका इजरायल दौरा हो रहा है। जहां इजरायल के प्रधानमंत्री बेजामिन नेतन्याहू एयरपोर्ट पर उनका स्वागत करेंगे। pm modi Israel visit 

इजरायल ने अवाक्स यानी फाल्कन एयरबोर्न वार्निंग एंड कंट्रोल सिस्टम भारत को बेचा था जिसे चीन को न देकर भारत को अहमियत दिया है। गौरतलब है कि अमेरिका भी इस बात के लिए इजरायल को राजी किया कि चीन को इस तकनीक को नहीं दिया जाए। इजरायल भारत से कई और सैन्य समझौते करने वाला है जिसमें 2014 में इजरायली एयरोस्पेस इंडस्ट्री की बराक एक एंटी मिसाइल डिफेंस खरीदने की घोषणा की जिसे आगे बढ़ाया जाएगा। pm modi Israel visit 




pm modi Israel visit एक बार फिर राजग की सरकार है ऐसे में दोनों देश और नजदीक हो गए हैं pm modi Israel visit

भारत को जब चीन से लगातार धमकी मिल रही है ऐसे में इजरायल से दोस्ती काफी काम आएगी। हालांकि दोनों देशों के बीच 90 के दशक से ही सैन्य संबंध मजबूत होते रहे हैं। पिछले एक दशक के दौरान दोनों देशों के बीच में करीब 670 अरब रुपए का कारोबार हुआ वहीं भारत अभी सालाना 67 अरब से 100 अरब रुपए के सैन्य उत्पाद इजरायल से आयात कर रहा है। pm modi Israel visit 

ताम्बे बर्तन में पानी पीने के चौकाने वाले फायदे

यह आंकड़ें काफी महत्वपूर्ण इसलिए हो जाते हैं कि क्योंकि दोनों देश के बीच कूटनीतिक संबंध की शरुआत जनवरी 1992 में हुई थी। हालांकि इजरायल ने यह कहा था कि भारत से हमारे संबंध 70 के दशक से ही प्रगाढ़ हो जाने चाहिए थे लेकिन अब जाकर हम दोनों नजदीक आए हैं। pm modi Israel visit 

26 जून को मोदी और ट्रम्प लिखेंगे पाकिस्तान का नया भविष्य

गौरतलब है कि अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में उपप्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी दोनों देशों के बीच लगातार संबंध प्रगाढ़ किए और बोर्डर पर सीमा पर चौकसी के लिए इजरायल से मदद भी ली गई। अब जब एक बार फिर राजग की सरकार है ऐसे में दोनों देश और नजदीक हो गए हैं। निश्चिततौर पर भारत इजरायली संबंध एक नई ऊंचाईयों को छूएगा, जिससे विश्व राजनीति में नए धुव्रीकरण में दोनों देश अहम भूमिका में होंगे। pm modi Israel visit 

loading…