पीएम मोदी 2017 में कर सकते है पाकिस्तान का दौरा !




भारत ने कल यह स्प्ष्ट कर दिया है की भारत, पाकिस्तान में होने वाले सभी सम्मेलनों का बहिष्कार नहीं करेगा। विदेश मंत्रालय ने इसकी पुष्टि कल उस समय की जब पाक मीडिया ने बताया कि भारत इस्लामाबाद में सोमवार से शुरू हुए गवर्निंग काउंसिल ऑफ द एशियन ऐंड पैसिफिक सेंटर फॉर ट्रांसफर ऑफ टेक्नॉलजी सम्मेलन का बहिष्कार कर दिया है। pm modi pak visit 2017

विदेश मंत्रालय के तरफ से दिये गये बयान में कहा गया है कि भारत सरकार को पाक में होने वाले सम्मेलन में शामिल होने से कोई गुरेज नहीं है। बशर्ते कि इस सम्मलेन में कई और देश जुटे हो। pm modi pak visit 2017

सूत्रों से पता चला है कि निकट भविष्य में यदि पाक में विकास, शांति और मानवता के मुद्दे पर कोई एशिया स्तरीय सम्मेलन होता है और इस सम्मेलन में पीएम मोदी को आमन्त्रित किया जाता है तो पीएम मोदी सम्मेलन का प्रतिनिधित्व कर सकते है। pm modi pak visit 2017

पाक पीएम मोदी को मनाने में जुटी है।

आपको बता दें कि भारत को इस मामले में उस समय खंडन करना पङ गया जब पाकिस्तानी मीडिया ने खुलकर इस खबर को प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया पर दिखाना शुरू कर दिया कि भारत ने गवर्निंग काउंसिल ऑफ द एशियन ऐंड पैसिफिक सेंटर फॉर ट्रांसफर ऑफ टेक्नॉलजी सम्मेलन का बहिष्कार कर दिया है। जबकि हार्ट ऑफ़ एशिया में शामिल होने के लिए पाकिस्तानी प्रतिनिधित्व भारत गये थे। pm modi pak visit 2017

हालांकि, भारत ने अभी तक सार्क सम्मेलन का बहिष्कार करने की वजह नहीं बताई है किन्तु ऐसा बताया जाता है भारत का सार्क सम्मेलन का बहिष्कार करने का मुख्य कारण उड़ी हमला रहा।

सैयद अकबरद्दीन ने पाक को सुनाई खरी-खरी कहा जैसा बोओगे, वैसा ही काटोगे

पीएम मोदी ने भारत-पाक के आपसी सम्बन्ध में सुधार के लिए 25 दिसंबर 2015 को पाक की ऐतिहासिक यात्रा की थी किन्तु पीएम मोदी के प्रयास को उस समय झटका लगा जब पीएम मोदी की पाक यात्रा के एक सप्ताह बाद 2 जनवरी को पठानकोट के वायु सेना बेस पर पाक समर्थित आतंकियों ने हमला किया था। pm modi pak visit 2017

हालांकि, सुरक्षाबलों ने हमले को सफल नहीं होने दिया और चारो आतंकी को मार गिराया गया  था लेकिन इस घटना से पाक की पोल खुल गयी। वही बुरहान वाणी की मौत के बाद पाक ने जो तांडव कश्मीर में मचाया उससे दुनिया को पाक के दोहरी राजनीति रूप का पता चल गया। pm modi pak visit 2017

अब जबकि भारत ने पाक को दो टूक में जबाब दे दिया है की बन्दुक और बात एक साथ नहीं हो सकती है तो पाक पीएम मोदी को मनाने में जुटी है। भारत के इस स्पष्टीकरण से भारत-पाक के रिश्ते को एक नया आयाम आने वाले दिनों में मिल सकता है।  pm modi pak visit 2017
( प्रवीण कुमार )