PM Swiss tour disturbing black money holder पीएम के स्विस दौड़े से ब्लैकमनी वालों की धड़कने बढ़ी।





पीएम के स्विस दौड़े से ब्लैकमनी वालों की धड़कने बढ़ी। PM Swiss tour disturbing black money holder 

ह्रदय रोगी कॉंग्रेसी इस खबर को न पढ़ें . PM Swiss tour disturbing black money holder

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अगले महीने होने वाले अपने अमेरिकी दौरे के दौरान स्विट्ज़रलैंड भी जायेंगे, उनके स्विट्ज़रलैंड के इस यात्रा से स्विस बैंक में ब्लैक मणि जामा करने वालों की धड़कने अभी से बढ़ने लगी है क्योंकि मोदी जी जिस काम को करने पे लग जाते है उसे मुकाम दे कर ही छोड़ते हैं और अब देश के गद्दार की खैर नहीं है। स्विट्ज़रलैंड में रुकने का उनका मकसद स्विजज बैंक अधिकारीयों से उनके बैंक में भारतियों द्वारा जमा ब्लैक मनी पर बात करना है। PM Swiss tour, disturbing black money holder 

हलाकि, विदेश मंत्रालय या स्विस अधिकारीयों ने अब तक इसकी पुष्टि नहीं की है लेकिन अगर ये बातचीत कामयाब रहती है तो मोदी जी वाशिंगटन से निकलते वक़्त स्विट्ज़रलैंड की राजधानी बर्न में रुकेंगे।

इसके दौरान वे राष्ट्रपति से टैक्स सम्बंदित मामलों की जानकारी देने के सिस्टम पर बात करेंगे। ज़ाहिर सी बात है की दोनों सरकार इस मामले पर किसी समझौते पर पहुंच जाए। वही टैक्स विभाग के अधिकारी भी पिछले कुछ समय से स्विज़ अधिकारीयों के साथ रेवेन्यू और दूसरे वित्तीय मामलों पर बैठक कर रहे है।

स्विट्ज़रलैंड से पहले कनाडा,साउथ कोरिया,जापान और यूरोपियन यूनियन भी टैक्स नियमों के उलंघन को लेकर जानकारी देने के सम्बन्ध में एक समझौता किया हुआ है। स्विट्ज़रलैंड के राजदूत ने मार्च में कहा था की दोनों देश टैक्स नियमों को लेकर समझौता कर सकते है। इससे पहले मोदी इस साल न्यूक्लियर सिक्योरिटी समिट के दौरान स्विस के राष्टपति से मुलाकात भी कर चुके है जिसमें पहले से ही इन सबके सबमंध में कार्यवाही शुरू हो चुकी है अब तो बस अंजाम देना बाँकी रह गया है तो फिर समझलो कोंग्रेसियों का क्या होने वाला है ।