सेना ने घाटी में पत्थरबाजों की सरगना आसिया आंद्राबी को किया गिरफ्तार




सरकार लगातार इस कोशिश में लगी है कि किसी भी तरह से जम्मू कश्मीर में शांति लौटे इसके लिए अलगाववादियों की धरपकड़ की जा रही है।जम्मू कश्मीर में अलगाववादियों की धरपकड़ की जा रही है इसी कड़ी में ऑल पार्टीज हुर्रियत कांफ्रेस की एक नेता आसिया अंद्राबी को गिरफ्तार किया गया है। आसिया अंद्राबी दुख्तरान ए मिल्लत नाम की संस्था चलाती है जो हुर्रियत कांग्रेस का ही एक ब्रांच है। police arrest asiya andrabi 

सर्च अभियान चलाया जा रहा है

आसिया अंद्राबी हुर्रियत कांफ्रेस की सदस्य हैं ही इन्होंने हिजबुल मुजाहिदीन के संस्थापक आशिक हुसैन फक्तू से शादी की है। गौरतलब है कि आशिक हुसैन 1992 से ही कारावास में हैं। आसिया महिला जिहादियों के नेटवर्क के हेड के रूप में जानी जाती हैं। आसिया अंद्राबी कश्मीर घाटी की राजनीति में मुख्य भूमिका के लिए जानी जाती हैं। police arrest asiya andrabi 

गौरतलब है कि आसिया ने 25 मार्च 2015 को कश्मीर में पाकिस्तानी झंडा फहराया था और पाकिस्तानी राष्ट्रगान भी गाया था। जिसको लेकर काफी विवाद भी हुआ था। आसिया लगातार भारत सरकार व राज्य सरकार की नीतियों का विरोध करती रही हैं। जब कश्मीर में बीफ पर प्रतिबंध लगाए जाने के विरोध में गाय काटने का वीडियो जारी किया। खूंखार आतंकवादी हाफिज सईद से आसिया ने एक रैली में फोन पर बात होने की बात कहकर सनसनी फैला दी। police arrest asiya andrabi 

घाटी में न अपील न दलील न वकील वाला कानून लागू किया जाना चाहिए : सुब्रमण्यन स्वामी

आसिया को पहले भी गिरफ्तार किया गया था जब उन्होंने जम्मू कश्मीर में युद्ध छेड़ने और हिंसा की बात कही थी। खास बात यह है कि आसिया पढ़ी लिखी महिला हैं और देशद्रोह के कार्यों में लगातार लगी रहती है जिसमें युवाओं को भारत के विरुद्ध भड़काना है। अब जब जम्मू कश्मीर में कानून व्यवस्था बहुत लचर हो गई है ऐसे में उनकी गिरफ्तारी अति आवश्यक कदम हो गया था। केंद्र सरकार लगातार जम्मू कश्मीर में कड़े कदम उठाने की बात कह रही है जिसके तहत अभी सर्च अभियान चलाया जा रहा है। police arrest asiya andrabi