कहाँ गए प्रशांत किशोर: बिहार को जंगलियों के हाथों सौंपने वाले। Where the prashant kishor Bihar handing the hands of jangli.




नीरज कुमार सोशल मीडिया में विपक्ष की भूमिका निभाने का ठेकेदार बन चुके प्रशांत किशोर को बिहार की जनता कोश रही है, पिछले वर्ष बिहार में हुवे विधान सभा चुनाव में नितीश कुमार की साफ सुथरी छवि का झूठा दवा कर सोशल मीडिया में प्रचार करने वाले प्रशांत किशोर अपनी देहारी बन. prashant kishor Bihar handing hands jangli

कर बिहार से निकल लिया और आज कल राहुल गांधी की छवि सुधरने का ठेका ले चूका है, वैसे तो ये खबर पुराणी हो चुकी है की प्रशांत किशोर को कांग्रेस ने करोडो में हायर कर पंजाब व यूपी चुनाव के लिए सोशल मीडिया के जरिये प्रचार का जिम्मा सपा है , लेकिन ये खबर नयी है की वह सोशल मीडिया पर लोगों को गुमराह कर बिहार चुनाव में लालू और नितीश कुमार को जिताने के लिए वहां की जनता के भावना के साथ खिलवाड़ किया और जो जनता लालू के जंगल राज को भूल चुकी थी उसे prashant kishor Bihar handing hands jangli

पुनः जंगल राज में वापस prashant kishor Bihar handing hands jangli

आज बिहार में वास्तविक जंगल राज आचुका है इसमें कोई संदेह नहीं और इस जंगल राज को कायम करने वाला सोशल मीडिया के मास्टर माइंड प्रशांत किशोर अपनी दुकानदारी चलIने पंजाब और यूपी की जनता को गुमराह करने के लिए कांग्रेस से हाथ मिला कर, सोशल मीडिया का इस्तेमाल करने में जुट चूका है। prashant kishor Bihar handing hands jangli

कल तक मैं भीं बिहारी होने के नाते हीं सही नितीश कुमार से थोड़ी बहुत हमदर्दी जरूर रखता था लेकिन पिछले कुछ दिनों में जिस तरह बिहार में दिनदहाड़े राहजनी, लूटमार, किडनेपिंग, डकैती बढ़ी है उससे साफ लगने लगा है की लालू यादव अपने मनसूबे में कामयाब हो चुके है और वो जो चाहते थे वही करेंगे और नितीश कुमार उनका कुछ भी बिगाड़ नहीं पाएंगे क्योकि आज नितीश से ज्यादा सिट तो लालू के पास है नितीश तो मुखोटा है आतंक तो आलू का ही चलेगा। prashant kishor Bihar handing hands jangli

लालू  के मनसूबे अब सामने आ चुका है। अब तो साफ भी हो गया की सिवान में बाहुबली तंक का प्रयाय सहाबुद्दीन जो लालू का करीबी है ने हिंदुस्तान टाइम्स के पत्रकार का निर्मम हत्त्या करवाया था, इससे साफ होता है की लालू नितीश को सामने रख कर बिहार में अपने आतंक का शासन चला रहा है और नितीश प्रधानमंत्री के कुर्सी के सपने में खोया है और इनदोनो को इस लायक बनाने वाला प्रशांत किशोर एक और देश के लुटेरे को सत्ता पर बिठाने का ठेका लेकर पंजाब और यूपी में पैसा कमाने निकल गया है ।

इस आर्टिकल के माध्यम से मैं सोशल मीडिया के लोगों से गुजारिश कर रहा हूँ की वे किसी ऐसे पोस्ट जो राहुल गांधी के छवि को सुधरने वाला दिखे उस पर विश्वास मत कीजिये क्योंकि वो उस पोस्ट के पीछे उसी प्रशांत किशोर का हाथ है जिसने बिहार में दुबारा जंगल राज लाने में चारा चोर लालू यादव का साथ दिया और अब देश को ६० साल से लूट रहे कांग्रेस को दुबारा से सत्ता दिलाने के लिए राहुल गांधी का  साफ छवि बन कर पेश करने के लिए कॉग्रेस से करोडो रुपये लिए है। इसलिए सावधान मोदी जी के काम काज को समझने की कोशिश कीजिये वही है जो इस देश में राम राज ला कर भारत को पुनः पुरे दुनिया का सवश्रेष्ठ नेतृत्व करने वाला देश बन सकते हैं।

बिहार में पत्रकार राजीव रंजन के बाद आरपीएफ जवान की हत्या

Where the prashant kishor Bihar handing the hands of jangli.