मैंने अपनी कमाई से प्रॉपर्टी खरीदी है किसी के घर डाका नहीं डाला है : प्रियंका गाँधी

जमीन घोटाले में लगे आरोपों का जवाब देने के लिए अब सीधे तौर पर प्रिंयका गांधी सामने आ गई हैं। प्रिंयका गांधी जमीन खरीदने के लिए अपने पैसे का इस्तेमाल की बात कही है। राबर्ट बाड्रा के पैसे के इस्तेमाल से साफ इंकार किया गया है। प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा है कि उन्होंने जो जमीन खरीदी है इसमें किसी दूसरे के पैसे का इस्तेमाल नहीं किया गया है उन्होंने खुद पैसा भरा है। जो जमीन खरीदी गई है इस पैसे को न तो उनके पति रॉबर्ट वाड्रा या स्काईलाइट हॉस्पिटिलिटी और डीएलएफ कंपनी से कोई वास्ता नहीं है। priyanka wadra slams dhingra commission 

जमीनी सौदे को लेकर काफी चर्चा हुई

गौरतलब है कि जो जमीन घोटाले में बात सामने आई है उसमें कहा जा रहा है कि उनके पति रॉबर्ट बाड्रा ने स्काईलाइट से पैसे लगाए गए थे जिसको साफ तौर पर प्रियंका ने इंकार किया है। प्रियंका गांधी ने कहा कि जो संपत्ति है वह उनके दादी इंदिरा गाधी की है जिसके लिए आवश्यक रूप से चार फीसदी का स्टाम्प ड्यूटी भुगतान किया गया था, जो जमीन के हिसाब से साठ हजार रुपए था। priyanka wadra slams dhingra commission 

प्रियंका ने बताया कि इस जमीन को 17 फरवरी 2010 में इसके असली मालिक को अस्सी लाख रुपए में बेच दिया गया है जिसके लिए तत्कालिन बाजार मूल्य के हिसाब से भुगतान भी किया गया। गौरतलब है कि एक खबर फैलाई जा रही है कि जो पैसे डीएलएफ से रॉबर्ट बाड्रा को मिले हैं उसका ही इस्तेमाल प्रियंका ने की है। जिसपर सफाई दी जा रही है। priyanka wadra slams dhingra commission 

मेरे पास जादू की छड़ी है जिसे मैं गुजरात चुनाव में इस्तेमाल करूँगा : राहुल गाँधी

प्रिंयका ने कहा है कि स्काईलाइट हॉस्पिटलिटी के कथित जमीन सौदे से पहले 28 अप्रैल 2006 को प्रियंका गांधी वाड्रा ने पांच एकड़ जमीन हरियाणा के फरीदावाद जिले के अमिपुर गांव में खरीदी थी। इसके लिए पंद्रह लाख रुपए का भुगतान किया था। गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव के पहले राबर्ट वाड्रा द्वारा डीएलएफ के साथ जमीनी सौदे को लेकर काफी चर्चा हुई थी जिसे हरियाणा विधानसभा में भी मुद्दे खूब छाए हुए थे। priyanka wadra slams dhingra commission