राहुल गाँधी के घर पर किसान आंदोलन को हिंसक बनाने की रणनीति’ तैयार हुई है : कैलाश विजयवर्गीय




मंदसौर में चल रहे किसानों के आंदोलन के लिए भाजपा ने कांग्रेस पर आरोप जड़ा है कि इनके द्वारा ही हिंसक कार्य हो रहे हैं। पूरी जिम्मेवारी कांग्रेस की है। भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने मंदसौर में किसान आंदोलन को लेकर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर गंभीर आरोप जड़ा है। कैलाश विजयवर्गीय का कहना है कि राहुल गांधी के घर में किसान आंदोलन को हिंसक बनाने के लिए रणनीति बनी थी। किसान कभी भी हिंसक आंदोलन नहीं करते हैं। rahul gandhi aur kisan aandolan 

किसानों को आज न बोनस मिलता है और न ही कर्ज की माफी होती है।

राहुल गांधी के घर पर बैठकर कांग्रेस के सभी नेताओं ने आंदोलन की चर्चा की थी जिसके बाद किसान आंदोलन हिंसक हो गया। ऐसे मौके पर कांग्रेस उपाध्यक्ष को जाने की जरूरत नहीं थी लेकिन राहुल गांधी के जाने से आंदोलन में आग में घी का काम किया और जिसके कारण ही स्थिति और खराब हुई है। rahul gandhi aur kisan aandolan 

भाजपा महासचिव का कहना है कि किसानों की समस्या को सुनने के लिए भाजपा सरकार तैयार है और राष्ट्रीय नेता तक उनकी बातों को पहुंचाया जाएगा। लेकिन राहुल गांधी ने जिस प्रकार से बयान दिए हैं इससे आंदोलन हिंसक हो गया है। कांग्रेस के नेता को मंदसौर जाने को लेकर संयम बरतने की जरूरत है। लेकिन केवल राजनीतिक लाभ के लिए कांग्रेस के बड़े नेता वहां दौरे पर हैं। rahul gandhi aur kisan aandolan 

जिसका उन्हें लाभ नहीं मिलने वाला है। एक तरफ राहुल गांधी तो दूसरी तरफ दिग्विजय सिंह इस आंदोलन को हवा देने यहां थे। गौरतलब है कि राहुल गांधी ने कहा था कि मोदी सरकार किसानों को सिर्फ गोली दे सकती है। केंद्र सरकार ने देश के सबसे अमीरों के एक लाख पचास हजार करोड़ का कर्ज माफ कर सकती है मगर किसानों का नहीं। rahul gandhi aur kisan aandolan 

मैं राहुल गाँधी नहीं हूँ जो गिरफ्तार करोगे मैं आधुनिक गाँधी हूँ : आप नेता

किसानों को आज न बोनस मिलता है और न ही कर्ज की माफी होती है। राहुल गांधी के मंदसौर जाने पर पुलिस ने गिरफ्तार भी किया था जिसके बाद उनकी पुलिस से झड़प भी काफी चर्चित रही। राहुल गांधी का कहना था कि वे किसानों के बिना मिले नहीं जाएंगें। rahul gandhi aur kisan aandolan