राहुल गाँधी एक नंबर के नशेड़ी और अय्याश है : कांग्रेसी नेता




राहुल गांधी को पप्पू केवल उनके विरोधी ही नहीं कहते हैं बल्कि पार्टी में भी कई ऐसे नेता है जिनके नजरों में आज भी वे पप्पू ही हैं। उत्तर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राजबब्बर ने मेरठ जिला अध्यक्ष विनय प्रधान को सभी पदों से हटा दिया और उन्हें पार्टी से भी बर्खास्त कर दिया। दरअसल वे राहुल गांधी की बढ़ाई तो कर रहे थे, लेकिन संबोधन में पप्पू ही कह गए। जिसको लेकर प्रदेश अध्यक्ष ने कार्रवाई की है। लगभग उसी तर्ज पर जैसे शोले सिनेमा में जय बीरू की बढ़ाई करता है। rahul gandhi ayyash hai 

खामियाजा विनय को भुगतना पड़ा

विनय प्रधान ने हर वाक्य में पप्पू संबोधन से ही बढ़ाई कर बैठे जिससे राहुल गांधी की बेइज्जती हो रही है। ऐसा मानना है कांग्रेस का। विनय प्रधान ने तो यहां तक कह दिया कि अगर पप्पू चाहते तो विदेशी गाड़ी में घुमते और उद्योगपतियों का साथ रहते लेकिन उन्होंने कभी उद्योगपतियों का साथ नहीं दिया। भले ही कितना नुकसान उठाना पड़ा हो। rahul gandhi ayyash hai 

विनय ने यह भी लिखा है कि भले ही पप्पू को हिंदी नहीं आती है लेकिन वे ईमानदारी पूर्वक अपनी बात रखते हैं जिसकी खिंचाई संघ करती रही है। गौरतलब है कि राहुल गांधी को लोकसभा चुनाव के पहले पप्पू कहकर विरोधी दलों ने उनका मजाक उड़ाना शुरू किया जिसके बाद चुनाव में उन्हें किसी भी तरह से पप्पू ही रहे साबित करते रहे। rahul gandhi ayyash hai 

नानी गांव से लौटने के बाद देश को बीजेपी मुक्त बनाऊंगा : राहुल गाँधी

जिससे कांग्रेस की बड़ी हार भी हुई। दरअसल उनके विरोधी यह साबित कर गए कि राहुल गांधी को देश के बारे में ज्यादा मालूम नहीं है और वे हवाई नेता हैं। और बिना सोचे समझे बयान दे डालते हैं। इसी तर्ज पर कांग्रेस के नेताओं ने उनकी बढ़ाई में भले ही पप्पू पप्पू बार बार लिखकर साबित करना चाहा कि वे पप्पू नहीं हैं। लेकिन कांग्रेस के बड़े नेताओं को इससे अपने नेताओं की बेइज्जती लगी जिसका खामियाजा विनय को भुगतना पड़ा और वे सभी पद से हटा दिए गए और पार्टी से बर्खास्त भी कर दिए दिए। rahul gandhi ayyash hai