केजरीवाल की राह पर चले राहुल गाँधी



राहुल गाँधी ने उत्तर प्रदेश के सीतापुर से जैसे ही कार्यक्रम को प्रारम्भ किया, उसी समय एक युवक ने अपना जूता खोलकर राहुल गाँधी को दे मारा। हालांकि, राहुल गाँधी बच गए किन्तु युवक के विरोध से ऐसा प्रतीत होता है कि राहुल गाँधी का रोड शो पूरी तरह से फ्लॉप हो रहा है। rahul gandhi follow kejriwal policy 

सिंधु जल के बाद अब समझौता भी नहीं जाएगी पाकिस्तान

आपको बता दें कि किसान रैली के पहले दिन ही खाट लूट का मामला आया था और अब जूता से स्वागत, लगता है राहुल गाँधी उत्तर प्रदेश में किसान रैली नहीं बल्कि फ्लॉप शो कर रहे है। जबकि राहुल गाँधी के अपने संसदीय क्षेत्र अमेठी में उनको सैकड़ों महिलाओं ने बंधक बना लिया था। rahul gandhi follow kejriwal policy 

आज की घटना के बाद यूपी में कांग्रेस की पोल खुल गई है कि उत्तर प्रदेश की जनता कांग्रेस से काफी नाराज है । आरोपी हरिओम मिश्रा नामक युवक ने बताया कि वो राहुल गाँधी की ओछी राजनीति से हैरान है। rahul gandhi follow kejriwal policy 

कल हो सकता है कि चाटे भी खाये

आज जब प्रदेश में चुनाव सर पर है तो रोड शो कर रहे है। वही जब चुनाव ख़त्म हो जाएगा, ये महाशय दर्शन भी नहीं देंगे। इनका दर्शन करना भी दुर्लभ हो जाएगा। ऐसी घटिया राजनीति करने वालों को सबक सिखाना जरुरी था। rahul gandhi follow kejriwal policy 

मैंने जो किया वो होशोहवास में किया है और इसके लिए हमें किसी राजनैतिक पार्टी से कोई मदद नहीं मिली है। मैं सबका ध्यान बाँटना चाहता था ताकि लोग जान सके कि राहुल गाँधी हकीकत में यूपी क्यों आये है ? प्रचार प्रसार करने या फिर प्रदेश की जनता का दुःख दर्द बाँटने। पुलिस ने आरोपी हरिओम मिश्रा को गिरफ्तार कर लिया है और उससे पूछताछ जारी है। rahul gandhi follow kejriwal policy 

वैसे एक बात तो गौरतलब है कि राहुल गाँधी कंही न कंही केजरीवाल की राह पर चल पड़े है। यदि दिल्ली चुनाव के वक्त को याद किया जाए तो केजरीवाल ने करीबन आधा दर्जन चाटे खाये थे और इतनी ही संख्या में उनका जूता फेककर स्वागत किया गया था। राहुल गाँधी भी उसी राह पर है, आज जूता फेंकवाया है, कल हो सकता है कि चाटे भी खाये। ये सब राजनैतिक स्टंट है।  rahul gandhi follow kejriwal policy 
( प्रवीण कुमार )