पीएम मोदी को हराना मेरे बाएं हाथ का खेल है क्योंकि मैंने गीता पढ़ना शुरू कर दिया है : राहुल गाँधी




देश में मोदी लहर से हर तरफ नमो-नमो का जयकारा है। वही विपक्ष मोदी की तोड़ को ढूढ़ने में पूरी तरह से जुट गयी है। हालांकि, कई अवसर पर विपक्ष मोदी लहर पर विजय प्राप्ति के बहुत नजदीक रहा किन्तु राहुल गाँधी की सेना इस मौके का फायदा नहीं उठा सकी। नतीजा आपके सामने है कि विपक्ष के कद्दावर नेता राहुल गाँधी अब मोदी के अनुसरण में लगे है। rahul gandhi reading gita 

पीएम मोदी दुनिया का सबसे बड़ा पंडित है

बता दें कि पिछले सप्ताह केरल में युवा कांग्रेस द्वारा बीच सड़क पर दिन के समय में गौ हत्या करने के कारण पुरे देश में कांग्रेस की काफी आलोचना की गयी। यंहा तक कि सोशल मीडिया पर लोगों का राहुल गाँधी के खिलाफ काफी रोष और आक्रोश देखा गया। rahul gandhi reading gita 

हालांकि, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी ने इस घटना की कड़ी निंदा की लेकिन देश ने उन्हें माफ़ नहीं किया। इसी वजह से राहुल गाँधी ने अब हिन्दू धर्म की आस्थाओं के सम्मान के लिए हिन्दू धर्म के कर्मकांड करने लगे है। जैसे गीता और उपनिषद, वेद पुराण का पाठ करना, हिन्दू धर्म के देवी देवतों की पूजा करना है। rahul gandhi reading gita 

हालांकि, बीजेपी ने राहुल गाँधी के इस नए अवतार को हाथी की दांत का संज्ञा दी है। बीजेपी का कहना है कि जैसे हाथी का दांत खाने को अलग और दिखाने को अलग होता है। ठीक उसी तरह राहुल गाँधी का गीता पढ़ना और हिन्दू देवी देवताओ का पूजा करना है। rahul gandhi reading gita 

पीएम मोदी को स्नातक स्तर का भी ज्ञान नहीं है

वही कांग्रेस सूत्रों के अनुसार राहुल गाँधी गीता और वेद, पुराण पढ़ना इसलिए शुरू किया है ताकि वो आरएसएस और बीजेपी को टक्कर दे सके। इस बात की पुष्टि राहुल गाँधी ने स्वंय की है। उन्होंने कहा कि वे आजकल गीता और उपनिषद पढ़ रहे है ताकि वो धार्मिक दृष्टि से आरएसएस और बीजेपी को चुनौती दे सके। rahul gandhi reading gita 

मोदी को अब केवल पाक से नहीं बल्कि तीन देशों ( चीन, पाक और अमेरिका ) से है डर : चीनी मीडिया

राहुल गाँधी ने बीजेपी पर आरोप मढ़ते हुए कहा कि आरएसएस और बीजेपी धर्म की आड़ में देश को दो भागों में बांटने की कोशिश कर रही है। आरएसएस केवल नागपुर के विकास पर ध्यान देती है जोकि उसका मुख्यालय स्थल है। वही पीएम मोदी पर हमला करते हुए गाँधी ने कहा, ” बीजेपी को लगता है की पीएम मोदी दुनिया का सबसे बड़ा पंडित है। जबकि शिक्षा के क्षेत्र में पीएम मोदी को स्नातक स्तर का भी ज्ञान नहीं है।rahul gandhi reading gita 

( प्रवीण कुमार )