रजनीकांत अनपढ़ है उन्हें आधुनिक राजनीति से दूर रहना चाहिए: सुब्रमण्यन स्वामी




अपने खास अदा के लिए जाने जाने वाले रजनीकांत पर कई बार कयास लगते रहे हैं कि वे राजनीति में आएंगे लेकिन उनका कहना है कि उन्हें नहीं पता कि ईश्वर ने उनके लिए क्या लिखा है। राजनीति में आने के कयास को जल्द ही खुलासा करेंगे। भाजपा के वरिष्ठ नेता व राज्यसभा सांसद सुब्रह्मण्यम स्वामी ने रजनीकांत को सलाह दी है कि वे राजनीति से दूर रहे हैं क्योंकि वे अच्छे पढ़े लिखे नहीं हैं। rajnikant anpadh hai 

सुपरस्टार रजनीकांत

दरअसल यह बयान ऐसे समय में आया है जब रजनीकांत लगातार अपने प्रशंसकों से मिल रहे हैं जिससे कयास लगाया जाने लगा है कि वे राजनीति में कदम रख सकते हैं। स्वामी ने कहा कि रजनीकांत की कोई विचारधार नहीं है। वे कई पंथ मानते हैं। जिससे किस विचारधारा को वे मानते हैं यह स्पष्ट नहीं है। rajnikant anpadh hai 

सुब्रह्मण्यम स्वामी ने कहा कि फिल्मी सितारे केवल लिखे हुए बयान को पढ़ने में माहिर होते हैं। जो किसी द्वारा लिखे जाते हैं। राजनीति में आने के सवाल पर रजनीकांत ने यह भी कई बार स्पष्ट कर चुके हैं वे राजनीति में आने के लिए प्रभावी नेता नहीं हैं न ही कोई वे सामाजिक कार्यकर्ता हैं। rajnikant anpadh hai 

रजनीकांत ने कहा है कि उनकी जिंदगी भगवान के हाथों में हैं मुझे नहीं पता उन्होंने मेरी किस्मत में क्या लिखा है। मैं हमेशा अपना कर्तव्य निभाते हुए अपना काम करता हूं। लेकिन उन्होंने यह भी कहा कि अगर वे राजनीति में आते हैं तो यह भी जल्द ही स्पष्ट कर देंगे कि कब से आ रहे हैं। फिलहाल वे किसी राजनीति दल से जुड़े हुए नहीं हैं। rajnikant anpadh hai 

राबड़ी देवी की तरह अब सुनीता केजरीवाल बनेंगी दिल्ली की सीएम : मनोज तिवारी

गौरतलब है कि सुपरस्टार रजनीकांत तमिलनाडु में डीएमके टीएमसी गठबंधन का समर्थन भी कर चुके हैं। दक्षिण भारत में फिल्म अभिनेताओं को राजनीति में काफी तरजीह दी जाती है। जिस प्रकार से रजनीकांत की लोकप्रियता है इससे इनके राजनीति में आऩे भर से दक्षिण के राज्यों के राजनीति समीकरण में बदलाव आ जाएंगें। rajnikant anpadh hai