जब तक ज़िंदा हूँ राम मंदिर नहीं बनने दूंगा : कपिल सिब्बल




अयोध्या विवाद मामले में बहुप्रतीक्षित सुनवाई सुप्रीम कोर्ट में बुधवार से शुरू होने जा रही है। इस मुकदमे की पिछली सुनवाई फरवरी 8 को हुई थी। उस समय सुप्रीम कोर्ट ने सभी प्रपत्रों का अनुवाद करने का निर्देश दिया था। सुनवाई शुरू होने से पहले ही दोनों पक्षों के जानकारों और पक्षकारों ने वकीलों के संग देश की राजधानी दिल्ली में डेरा डाल दिया है। ram mandir babri masjid hearing

कपिल सिब्बल ने बुधवार को बड़ा बयान दिया है। ram mandir babri masjid hearing

इस बारे में पक्षकारों के वकीलों का कहना है कि अब सब कुछ सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर निर्भर है। इस मामले को और नहीं टालना चाहिए और जल्द से जल्द फैसला सुनाने की जरुरत है।वही इस बारे में कांग्रेस नेता और वकील कपिल सिब्बल ने बुधवार को बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि वह कभी भी सुन्नी वक्फ बोर्ड के वकील नहीं थे। ram mandir babri masjid hearing

जानिए राहुल गाँधी में है कितनी राजनैतिक क्षमता क्या मोदी टिक पाएंगे 2019 में !

इसके साथ सिब्बल ने कहा कि ‘ राम मंदिर मोदी जी की मर्जी से नहीं बल्कि भगवान की इच्छा से बनेगा।’ हमारे पीएम मोदी कभी कभी भावनाओं में कुछ ज्यादा ही कुछ कह जाते है। वही अमित शाह ने मेरे ऊपर आरोप लगाया कि मैं सुन्नी वक्फ बोर्ड का प्रतिनिधित्व करता हूं। जबकि मैं कभी भी सुन्नी वक्फ बोर्ड का वकील नहीं था।’बता दें, पीएम मोदी ने कपिल सिब्बल के बहाने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस राम मंदिर बाबरी मस्जिद मुद्दे को लटकाए रखना चाहती है। ram mandir babri masjid hearing

कच्चा केला खाने के बाद जो हुआ जानकर हैरान हो जायेगे आप

 

( प्रवीण कुमार )