यौन दुष्कर्म मामले में जैन मुनि शांतिसागर ने कबूला जुर्म




देश में बाबाओं के बढ़ते यौन प्रकोप में एक और नाम जुट गया है। ये नाम जैन धर्म के मुनि शांतिसागर का है। यौन दुष्कर्म मामले में पुलिस ने जैन मुनि शांतिसागर को गिरफ्तार किया है। प्रारम्भिक रिपोर्ट में जैन मुनि पर यौन दुष्कर्म का मामला दर्ज़ है। जिसकी जाँच शुरू हो चुकी है। मेडिकल के दौरान जैन मुनि शांतिसागर ने अपने जुर्म को कबूला है। उन्होंने कहा, लड़की की सहमति के बाद मैंने संबंध स्थापित किये थे। उस वक्त लड़की राजी थी। इससे पहले मैंने कभी किसी लड़की से शारीरिक संबंध नहीं स्थापित किया था। rape accused jain muni shantisagar 

पीएम मोदी धूर्तबाज है उन्होंने देश को बर्बाद कर दिया है : शत्रुध्न सिन्हा

वही अदालत ने जनि मुनि की पुलिस रिमांड बढ़ा दी है। विश्वविख्यात जैन मुनि तरुण सागर ने तीखी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा शांतिसागर एक पाखंडी है। उसे तत्काल जैन समुदाय से बाहर करने की आवश्यकता है। ऐसे पाखंडी को समाज में आदर्श सम्मान नहीं मिलना चाहिए। तरुण सागर ने कहा जैन धर्म में किसी लड़की से एकांत में मिलना गुनाह है। जैन मुनियों को इससे बचना चाहिए। rape accused jain muni shantisagar