शरद यादव बनेंगे देश के अगले राष्ट्रपति : कांग्रेस




देश में राष्ट्रपति पद के चुनाव के लिए हलचल शुरू हो गई है जिसके लिए विपक्ष एकजुटता प्रदर्शित करने की कोशिश कर रही है जिसमें जदयू के वरिष्ठ नेता का नाम सबसे आगे आ गया है। राष्ट्रपति चुनाव में विपक्ष की एकजुट बन जाए इसके लिए अभी से मशक्कत जारी है। जदयू के वरिष्ठ नेता व राज्यसभा सदस्य शरद यादव का नाम सबसे आगे चल रहा है। ऐसा माना जा रहा है कि विपक्ष इनके नाम पर मुहर लगा देगा। sharad yadav will next president 

गौरतलब है कि बसपा, कांग्रेस और सपा ने महागठबंधन बनाने की ओर इशारा किया है। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पहले ही कह चुके हैं कि अगर विपक्ष एकजुट रहे तो भाजपा को हराया जा सकता है। जिस प्रकार से अभी पांच राज्यों में चुनाव हुए उसमें भाजपा को बहुमत नहीं हासिल हुआ है लेकिन प्रोजेक्शन ऐसा किया गया कि भाजपा की बड़ी जीत हुई है। sharad yadav will next president 

बिहार के विधानसभा चुनाव में किया गया।

जिस प्रकार से शरद यादव का नाम आगे आया है। इनके नाम पर सभी में एकमत हो गया है। शरद यादव का नाम महागठबंधन में शामिल सभी दलों को स्वीकार है। शरद यादव साफ सुथरे छवि के है। गौरतलब है कि शरद यादव के प्रशंसक भाजपा में भी काफी लोग है। अभी तक जिस प्रकार से समीकरण राष्ट्रपति के दिख रहे हैं ऐसे में भाजपा को तो ज्यादा कठिनाई नहीं होगी। लेकिन विपक्ष एकजुट होगी तो तय है कि भाजपा को काफी मशक्कत करनी पड़ेगी।  sharad yadav will next president 

मुस्लिमों की खातिर मैं भी वंदे मातरम और भारत माता की जय नहीं बोलूंगा : राहुल गाँधी

विदित हो कि राष्ट्रपति चुनाव की प्रक्रिया जून के आखिर सप्ताह में शुरू होगी। जिसके लिए अभी से लगातार कोशिश की जा रही है।  भाजपा की ओर से आरएसएस सर संघचालक मोहन भागवत का नाम बार बार उछाला जा रहा है। sharad yadav will next president

मोहन भागवत के प्रशंसक खुद शरद यादव भी हैं। लेकिन राजनीति के इस मैदान में दोनों आमने सामने हो सकते हैं। राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी का कार्यकाल 25 जुलाई को समाप्त हो रहा है। राष्ट्रपति का चुनाव से 2019 में लोकसभा चुनाव का मूड भी तय होगा। जिसमें विपक्ष को एकजुट होने का मौका मिलेगा। जिसके सफल प्रयोग बिहार के विधानसभा चुनाव में किया गया। sharad yadav will next president