सुन्नी और सिया की लड़ाई में ट्रम्प खा रहे है केक और मलाई




अमेरिका अपने व्यापारिक समझौते को सबसे ऊपर रखता है यही कारण है कि वह कतर और सऊदी अरब दोनों से रक्षा सौदे तय कर डबल गेम चल दिया है। एक तरफ जहां अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ट ट्रंप कतर पर आतंकवाद को मदद देने के आरोप दोहरा चुके हैं वहीं दोनों देशों के बीच लड़ाकू विमानों की खऱीद पर करीब आठ खरब रुपए के एक सौदे पर समझौता हुआ है। siya muslim versus sunni muslim 

आतंकवादी पर चिंता व्यक्त कर रहा है

इस समझौते के मुताबिक अमेरिका कतर को एफ-15 फाइटर जेट्स बेचेगा। सौदे की राशि और बढ़ सकती है। इसके पहले अमेरिका ने कतर पर बैन लगाने वाले सऊदी अरब के साथ भी एक बड़ा हथियार सौदा किया है। कतर के रक्षा मंत्री ने अमेरिका से रक्षा सौदे को काफी अहमियत दिया है। siya muslim versus sunni muslim 

उन्होंने कहा कि कतर अमेरिका के साथ अपना साझा सैन्य कार्यक्रम जारी रखना चाहता है। गौरतलब है कि कतर में अमेरिका का एक सैन्य अड्डा है जो कि पूरे मध्यपूर्वी एशिया में यूएस का सबसे बड़ा मिलिटरी अड्डा है। siya muslim versus sunni muslim 

अमेरिकी की पॉलिसी स्पष्ट नहीं हो रही है।

कतर पर सऊदी अरब, यूएई, मिस्त्र और बहरीन ने कतर पर आतंकवादी संगठनों की मदद करने और पूरे क्षेत्र को अस्थिर करने की कोशिश करने का आरोप लगाते हुए उसके साथ अपने आर्थिक व कूटनीतिक संबंध तोड़ लिए हैं यहां तक कि सऊदी अरब के कई सहयोगी देश भी कतर का बहिष्कार कर दिया है। siya muslim versus sunni muslim 

इतिहास पढ़ो फिर सानिया मिर्ज़ा से देशभक्ति का सबूत माँगना : शोएब मालिक

हालांकि कतर अपने ऊपर लगे सभी आरोपों को खारिज कर रहा है वहीं अमेरिकी जैसे देश दोनों तरफ अपने रोटी सेंकने में लगे हैं। एक तरफ जहां आतंकवादी पर चिंता व्यक्त कर रहा है। वहीं दूसरी तरफ कतर जैसे देश को हथियार का सप्लाय भी कर रहा है। जिससे अमेरिकी की पॉलिसी स्पष्ट नहीं हो रही है। गौरतलब है कि इस तरह की अरब की नीति से जहां अमेरिका अपना व्यापारिक लाभ ले रहा है वहीं आंतकवाद पर उसकी नीति तार तार हो रही है। siya muslim versus sunni muslim