सिर्फ रोटी-दाल खाकर अपनी जान दे रहे है सेना के जवान




जम्मू-कश्मीर में भारत-पाकिस्तान सीमा पर तैनात सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के एक जवान ने वीडियो के जरिये यह संगीन आरोप लगाया है कि खराब गुणवत्ता का खाना देकर उनके साथ ‘अत्याचार’ किया जा रहा है। यही नहीं, कई बार तो उन्हें खाली पेट भी सोना पड़ता है। शिकायत सामने आने पर केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने ‘कड़ी कार्रवाई’ के आदेश दिए हैं। soldiers uploaded sena food video 

चार मिनट की अवधि वाले तीन अलग-अलग इन वीडियो को सोशल मीडिया पर बीएसएफ की 29वीं बटालियन के कांस्टेबल टीबी यादव (40) ने अपलोड किया है। वर्दी पहने और राइफल लिए कांस्टेबल यादव वीडियो में दावा कर रहा है कि सरकार उनके लिए जरूरी चीजें मुहैया कराती है, लेकिन उनके वरिष्ठ और अधिकारी उन्हें ‘गैरकानूनी’ तरीके से बाजार में ‘बेच’ देते हैं, जिसका खामियाजा उन्हें भुगतना पड़ता है। वीडियो में कांस्टेबल यादव ने वह खाना दिखाया है जो कथित रूप से उसे परोसा जा रहा है। soldiers uploaded sena food video 

‘नाश्ते में हमें सिर्फ पराठा और चाय मिलती है

जवान ने कहा हैं , ‘नाश्ते में हमें बिना अचार या सब्जी के सिर्फ पराठा और चाय मिलती है.. हमें 11 घंटों तक कड़ी मेहनत करनी पड़ती है और कई बार तो पूरी ड्यूटी के दौरान खड़े ही रहना पड़ता है। दोपहर के खाने में, हमें रोटी के साथ ‘दाल’ मिलती है जिसमें सिर्फ हल्दी और नमक ही होता है। ऐसी गुणवत्ता का खाना हमें मिल रहा है.. एक जवान कैसे अपनी ड्यूटी कर सकता है? मैं प्रधानमंत्री से जांच की मांग करता हूं.. कोई हमारी मुश्किलों को नहीं दिखाता। यह हमारे खिलाफ अत्याचार और अन्याय है। soldiers uploaded sena food video 

भारत ने उरी हमले का लिया बदला, POK में घुसकर दर्जनों आतंकियों को मौत के घाट उतारा

टीबी यादव ने कहा कि यह वीडियो शूट करने और अपलोड करने के कारण उसके खिलाफ शायद कड़ी कार्रवाई भी की जा सकती हैं। और वह शायद यहां नहीं रह पाएगा। उसने लोगों से अनुरोध किया कि वह इस मुद्दे को आगे बढ़ाएं ताकि सकारात्मक कदम उठाए जा सकें। soldiers uploaded sena food video 

वीडियो सामने आते ही गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने ट्वीट किया, ‘बीएसएफ जवान की मुश्किल वाला वीडियो मैंने देखा है। मैंने गृह सचिव से कहा है कि वह तुरंत बीएसएफ से रिपोर्ट मांगे और कड़ी कार्रवाई करें।’ soldiers uploaded sena food video