केजरीवाल की पत्नी सुनीता बनेगी पंजाब की मुख्यमंत्री !




अरविन्द केजरीवाल की पत्नी सुनीता केजरीवाल ने अपनी नौकरी से वी आर एस ले लिया है। इसे कहते हैं दिमाग। यानि आम के आम और गुठलियों के दाम। इंडियन रेवेन्यू सर्विस में बीस साल से अधिक नौकरी करने के बाद ये वी आर एस लिया गया है अतः पेंशन पक्की हो गई। ऊपर से जो आमदनी और रुतवा राजनीति में है अब उसका भी ये फायदा लेंगी। sunita will become punjab cm

सूत्रों की अगर माने तो आम आदमी पार्टी में सुनीता को अहम जिम्मेदारी मिलने वाली है। जो भी हो चुनाव से पहले एवं चुनाव के दौरान भी केजरीवाल ने परिवार वाद का जमकर विरोध किया था। जहां तक सवाल है सुनीता का,  तो 2014-15 के चुनाव में सुनीता केजरीवाल के पक्ष में प्रचार से दूर रही थी। परन्तु 2017 चुनाव से पहले उन का वी आर एस लेना ये संकेत दे रहा है की वो पार्टी मैं सक्रिय भूमिका निभा सकती है।  sunita will become punjab cm 

ज्ञात हो की आई आर एस सुनीता इनकम टैक्स में कमिश्नर के पद पर थी। जब की अरविन्द केजरीवाल जब नौकरी छोड़ कर आये थे उस समय वो जॉइंट कमिश्नर के पद पर थे। इन दोनों की मुलाक़ात ट्रेनिंग के दौरान हुई। बाद में इनका प्यार परवान चढ़ा और इन्होने शादी कर ली। sunita will become punjab cm

प्रजातंत्र मूर्खों का शासन है   sunita will become punjab cm

विश्वत सूत्रों से यह भी ज्ञात हुआ की केजरीवाल ने नौकरी छोड़ने का फैसला भी बड़े ही सोच समझ कर लिया था इसी बीच अन्ना हजारे जैसे व्यक्ति को लेकर अरविन्द दिल्ली आये। उनके आंदोलन का लाभ लेकर लोगों के बीच बहुत कम समय में इनकी पहचान बन गई। फिर इन्होंने अन्ना को भी किनारे लगा दिया और अपनी पार्टी आप बनाली।  sunita will become punjab cm

मिलिए अगले इमाम से

एक साल के भीतर अरविन्द केजरीवाल अपनी सरकार बनाने में सफल हो गए । अब अरविंद केजरीवाल अपनी नीति लालू प्रसाद यादव वाली अपनाने की सोच रहे हैं। अभी श्री यादव से इनकी अच्छी दोस्ती है और लालू प्रसाद यादव ने ये साबित कर दिखाया है की प्रजातंत्र मूर्खों का शासन है। sunita will become punjab cm 

अतः उनके बताए रास्ते पर चलकर केजरीवाल भी अपना  राजनीति का झंडा गाड़ने का फैसला ले सकते हैं। आगे पंजाब का चुनाव है, जहां आप अपनी दावेदारी कर रही है। ऐसी स्थति में पंजाब का मुख्य मंत्री सुनीता को बनाया जा सकता है । 15 जुलाई से सुनीता का वीआर एस प्रभावी होगा। वैसे इस वी आर एस का एक कारण केंद्र और दिल्ली सरकार के बीच का टकराव भी माना जाता है, आगे आगे देखिये ये आप वाले क्या क्या करते हैं। sunita will become punjab cm 
( हरि शंकर तिवारी )
<