आज गाँधी जी जीवित होते तो बीजेपी के शाशन से शर्मिंदा महसूस करते : तारा गांधी




महात्मा गांधी पर की गई अमित शाह की टिप्पणी पर उनके पोती तारा गांधी भट्टाचार्य ने तीखी प्रतिक्रिया दी है। उनका कहना है कि इस तरह से महात्मा का अपमान नहीं किया जाना चाहिए। महात्मा गांधी की पोती तारा गांधी भट्टाचार्य ने अमित शाह की टिप्पणी पर कहा है कि उन्हें गहरा आघात लगा है। मोहन करमचंद गांधी की जैविक पौत्री होने के नाते मेरी स्वाभाविक प्रतिक्रिया है कि मुझे गहरा आघात लगा। tara gandhi slams amit shah 

महात्मा गांधी दूरदर्शी थे

महात्मा गांधी राष्ट्रपिता हैं और एक भारतीय नागरिक होने के नाते मैं भी अपनी निष्पक्ष प्रतिक्रिया देना चाहती हूं। अमित शाह के नाम लिए बिना तारा भट्टाचार्य ने नसीहद देते हुए कहा कि वरिष्ठ राजनेता को महानतम युददृष्टा महात्मा गांधी के बारे में बोलते समय विवेक दिखाना चाहिए था। खासकर तब जब सत्तारूढ़ दल के अध्यक्ष पद पर सुशोभित हैं। tara gandhi slams amit shah 

भाजपा की परेशान बढ़ जाती है

गौरतलब है कि भाजपा अध्यक्ष ने कांग्रेस पर तीखे प्रहार करते हैं। इसी तीखे प्रहार में उन्होंने कह डाला की महात्मा गांधी चतुर बनिया थे। जिन्होंने आजादी के बाद कांग्रेस को भंग करने को कहा था। अमित शाह ने कहा था कि कांग्रेस किसी एक विचारधारा के आधार पर किसी एक सिद्धांत के आधार पर बनी हुई पार्टी नहीं है, वो आजादी प्राप्त करने का एक स्पेशल पर्पज व्हीकल है। tara gandhi slams amit shah 

मुझसे अधिक राहुल गाँधी को चूड़ी की जरुरत है : स्मृति ईरानी

आजादी प्राप्त करने का एक साधन था। महात्मा गांधी दूरदर्शी थे। वह बहुत चतुर बनिया थे। उन्को मालूम ता कि आगे क्या होने वाला है। इसीलिए उन्होंने आजादी के तुरंत बाद कहा था कि कांग्रेस को बिखेर देना चाहिए। अमित शाह के इस बयान के बाद लगातार तीखी प्रतिक्रिया आने लगी। tara gandhi slams amit shah 

जिसमें महात्मा गांधी के पौत्री ने भी अमित शाह को कहा कि उन्हें ऐसे बयान देने पर विवेक का इस्तेमाल करना चाहिए। अमित शाह अध्यक्ष के तौर पर कई ऐसे बयान दिए हैं जिससे भाजपा की परेशान बढ़ जाती है लेकिन वोट मैनेजमेंट में माहिर अमित शाह का पार्टी में चारों तरफ से सहयोग मिलता रहा है। tara gandhi slams amit shah