यदि योगी ने उर्दू गेट गिराया तो मैं ताजमहल गिरवा दूंगा : आज़म खान




योगी सरकार ने अखिलेश सरकार द्वारा बनाये गए अवैध उर्दू गेट को गिराने का आदेश दिया है। इस आदेश के बाद अब आज़म खान के पसंदीदा उर्दू गेट पर बुलडोज़र चलना तय है। लेकिन इससे आज़म खान को गहरा झटका लगा है। क्योंकि हाल ही में जब योगी सरकार ने ताजमहल को यूपी टूरिज़्म के लिस्ट से बाहर कर दिया था। जिससे आज़म खान काफी प्रसन्न दिखे थे। tazmahal ko bhi girvawo 

उन्होंने सोशल साइट ट्विटर पर ट्वीट कर सीएम योगी की करवाई के लिए उनकी प्रशंसा की थी। उन्होंने ट्वीट में लिखा था. ” एक जमाना में बात चली थी ताज महल को गिराना चाहिए। योगीजी इस तरहके निर्णय लेंगे तो हमारा सहयोग रहेगा।” .अब जबकि स्वंय आज़म खान के धरोहर माने जाने वाला उर्दू गेट पर योगी सरकार का बुलडोज़र चलने वाला है तो आज़म खान चुप्पी साधे हुए है। tazmahal ko bhi girvawo 

यह गेट आज़म खान का पसंदीदा गेट माना जाता है

बता दें उर्दू गेट आज़म खान ने अवैध तरीके से अपने शान और शौकत के लिए बनवाई थी। जिसे आज़म खान अपनी पहचान बताने से गुरेज नहीं करते थे। इस गेट को बनाने में कुल 40 लाख रूपये खर्च किये गए थे। जोकि अब पूरी तरह से बर्बाद होने वाला है। इस गेट के अवैध निर्माण की शिकायत पर योगी सरकार ने डीएम को जांच का आदेश दिया था। जांच में डीएम ने पाया कि गेट जंहा बना है वो अवैध है। ये न केवल अवैध तरीके से बनाया गया था बल्कि इससे राह चलते गाड़ियां और आम लोगों को भी परेशानी हो रही है। tazmahal ko bhi girvawo 

 बार-बार टॉयलेट जाने की समस्या का देसी इलाज

गौरतलब है यह गेट उत्तर प्रदेश कर उत्तराखंड की सीमा को जोड़ता है। जिससे इस गेट के रास्ते पर यातायात बाधित रहता है। इस मद्देनजर लोगों ने शिकायत की थी। मामले की गंभीरता को देखते हुए डीएम ने जांच यूपी पीडब्ल्यूडी को जांच के आदेश दिए थे। tazmahal ko bhi girvawo 

योगी ने दिया आदेश गिरा दो आज़म खान का उर्दू गेट

जाँच के बाद यूपी पीडब्ल्यूडी ने इस गेट को अवैध घोषित कर दिया था। जिसके बाद डीएम शिव सहाय अवस्थी ने जांच रिपोर्ट सरकार को भेजी थी। रिपोर्ट पर रिप्लाई करते हुए योगी सरकार ने उर्दू गेट के खिलाफ उचित करवाई करने का आदेश दिया था। इसके बाद प्रशासन ने इस गेट पर बुलडोज़र चलाने का फैसला किया।  tazmahal ko bhi girvawo 
( प्रवीण कुमार )