ताजमहल किसी के बाप की जागीर नहीं है जो तोड़ दे : ओवैसी




योगी सरकार द्वारा ताजमहल को पर्यटन स्थल नहीं बताये जाने के बाद से इस ऐतिहासिक धरोहर को लेकर राजनैतिक रार तेज़ हो गयी है। हालांकि, सपा के वरिष्ठ नेता आज़म खान ने योगी सरकार के इस कदम को ऐतिहासिक बताते हुए योगी का समर्थन किया था। उन्होंने कहा था कि यदि योगी सरकार ताजमहल को गिरा दें तो मैं उसका समर्थन करूँगा। tazmahal ko tod den 

विदेशी लोगों की मेहमानबाजी करना छोड़ दें

लेकिन योगी सरकार के इस फैसले के दो दिन बाद ही योगी सरकार ने सपा सरकार द्वारा बनाई गयी उर्दू दरवाजा को गिराने का आदेश दिया। जिससे आज़म खान आग बबूला हो उठे। उन्होंने कहा कि योगी प्रदेश में तानाशाही प्रशासन को बढ़ावा दे रही है। वही योगी सरकार के तरफ से जारी किये गए बयान में कहा गया था कि इस दरवाजा से ट्रफिक व्यवस्था में दिक्कत आ रही थी। जिस कारण उर्दू दरवाजा को गिराने का फैसला लिया गया है। tazmahal ko tod den 

फेकू मोदी जी करेंगे गुजरात में जुमलों की बारिश : राहुल गाँधी

जिससे मुस्लिम वर्ग काफी नाखुश थे। योगी सरकार के इस फैसले के बाद प्रदेश के फायरब्रांड बीजेपी विधायक संगीत सोम ने कहा कि कुछ लोग कहते है कि ताजमहल को पर्यटन लिस्ट से बाहर कर दिया गया है। जोकि गलत है। ताज़महल एक ऐतिहासिक स्थल है। मैं कहता हूँ किस बात का ऐतिहासिक स्थल है। हिन्दुओं को मिलजुल कर इस स्थल को ध्वंस कर देना चाहिए। tazmahal ko tod den 

त्वचा निखारने के लिए एलोवेरा का भी बाप है नागफेनी

संगीत सोम के इस बयान के बाद राजनैतिक सरगर्मी तेज़ हो गयी है। हैदराबाद के सांसद ओवैसी ने संगीत सोम की आलोचना करते हुए कहा, यदि ताजमहल को गद्दारों ने बनाया है तो इसे तोड़ दें। तो क्या लाल किले से पीएम मोदी झंडा फहराना छोड़ दें। क्या दिल्ली स्थित हैदराबाद हाउस में विदेशी लोगों की मेहमानबाजी करना छोड़ दें। क्योंकि इस हाउस को भी गद्दार ने बनाया था। tazmahal ko tod den 

( प्रवीन कुमार )