तीन साल के कार्यकाल में पीएम मोदी एक दिन भी नहीं पड़े बीमार, जानिए क्या है राज !




प्रधानमंत्री विगत तीन साल में छुट्टी नहीं ली और लगातार 16-18 घंटे कार्य कर रहे हैं। आखिर इनके फिट रहने के लिए क्या है रहस्य। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पद पर शपथ लिए हुए तीन साल हो गए लेकिन इस दौरा वे कभी छुट्टी नहीं लिए। ना ही बीमार पड़े। देश में या विदेश में वे हमेशा फिट नजर आते हैं। आज उनकी उम्र 66 वर्ष की है लेकिन वे अब भी वैसे ही फिट हैं जैसे 21 साल का युवा। teen saal ek din bhi nahi bimar 

नरेंद्र मोदी अपने रूटिन के कार्यो के कारण ही कभी बीमार नहीं पड़ते हैं

नरेंद्र मोदी पर लिखी गई किताब अ पॉलिटिकल बायोग्राफी के अनुसार प्रधानमंत्री ने बचपन में ही नमक छोड़ दिया था। तीखे खाने छोड़ दिए थे। गर्मी के दिनों में भी वे कई बार केवल गुनगुना पानी पीते हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भले ही देर से बिस्तर पर जाए लेकिन प्रतिदिन सुबह चार से पांच बजे योगा करना नहीं भूलते। प्राणायाम, सूर्य नमस्कार और योगासन से उनको ऊर्जा मिलती है। teen saal ek din bhi nahi bimar 

नरेंद्र मोदी को पता है कि ब्लड सरकुलेशन अगर ठीक हो तो तरो ताजा रहा जाता है इसलिए वे प्रतिदिन टहलना नहीं भूलते हैं। यह उनकी प्रतिदिन की रूटिन में शामिल है। कहा जाता है कि अगर तेज सांस दिन में एक बार भी कर ले तो फेफड़ों में ऑक्सीजन मिलता रहता है। प्रधानमंत्री दिन में यह कम से कम एक बार अवश्य करते हैं जिसका लाभ मिलता है।

प्रधानमंत्री फिट रहने के लिए सुबह हल्का नाश्ता लेते हैं जिसमें पोहा, खाखरा और भाखरी के साथ हल्दी वाली गुजराती चाय अवश्य लेते हैं। जिससे उन्हें दिन भर ऊर्जा मिलती रहती है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कुछ भी ऐसा नहीं लेते हैं जिससे की हैवी हो। teen saal ek din bhi nahi bimar 

मोदी नवरात्र में नौ दिन के उपवास रखते हैं जिसमें वे केवल नीबूं पानी पर रहते हैं।

ऐसे वे पूर्ण रूप से शाकाहारी हैं। जिसमें वे हरी सब्जी लेना नहीं भूलते हैं जिसमें वे फल भी लेते हैं। प्रधानमंत्री गुजराती खाना भी लेना नहीं भूलते हैं। डॉक्टर का कहना है कि अगर आप कम कम भोजन कई बार लें तो फिट रहते हैं। नरेंद्र मोदी ऐसे ही भोजन लेना नहीं भूलते हैं। हल्का फ्रूट्स व स्नैक्स भी लेते रहते हैं। प्रधानमंत्री गुनगुना पानी लेते रहते हैं। जिससे वे फिट रहते हैं। teen saal ek din bhi nahi bimar 

गौ हत्यारी और देश की कलंकनी कांग्रेस को फांसी पर लटकाओ !

नरेंद्र मोदी नवरात्र में नौ दिन के उपवास रखते हैं जिसमें वे केवल नीबूं पानी पर रहते हैं। मेडिटेशन का खास ख्याल रखते हैं। जिसे वे कभी भी करना नहीं छोड़ते हैं। प्रधानमंत्री किसी भी तरह की व्यसन से वे दूर रहते हैं। प्रधानमंत्री लगातार ऊर्जा के लिए अध्यात्म की ओर जरूर जुड़े रहते हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने रूटिन के कार्यो के कारण ही कभी बीमार नहीं पड़ते हैं और लगातार कार्यों में लगे रहते हैं। teen saal ek din bhi nahi bimar