तेजस्वी यादव ने आयकर छापे को लेकर पत्रकारों पर उतारा गुस्सा कहा मोदी के चमचो ये बिहार है।





जमीन घोटाले में घिर चुके लालू प्रसाद के पुत्र उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव अब अपना गुस्सा पत्रकारों पर निकालने में लगे हुए हैं। पत्रकार पर पक्षपात का आरोप जड रहे हैं और भाजपा के पक्ष में रिपोर्टिंग की हिमायती बता रहे हैं। बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव जमीन घोटाले मामले में पत्रकारों के जवाब देने के बजाय भड़क गए। tejsawi yadav slams media 

तेजस्वी प्रसाद का कहना है कि भाजपा के आरोपों को बिना जांचे ही मान लिया जाता है जबकि वे जब आरोप भाजपा पर लगाते हैं तो उसका जवाब उनसे नहीं लिया जाता है। तेजस्वी यादव ने सुशील मोदी के बारे में बोलते हुए ऐसा कहा। तेजस्वी का आरोप है कि जब भी सुशील मोदी पर आरोप लगे पत्रकार उनसे जवाब लेना उचित नहीं समझा। tejsawi yadav slams media 

गौरतलब है कि पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने लालू प्रसाद यादव पर जमीन घोटाले में घेरा है जिसमें उनके परिवार के लोगों को लाभ पहुंचाया गया है। सुशील मोदी ने चारे घोटाले में भी सबसे आगे रहकर लालू प्रसाद को घेरा था जिसके बाद इन्हें सजा भी हुई। जिसके कारण लालू प्रसाद छह साल तक चुनाव लड़ने से अयोग्य हो गए। tejsawi yadav slams media 

तेजस्वी यादव का आरोप है कि जब भी कोई आरोप लगाया जाता है बिना वजह ही उनके परिवार को घेरा जाता है जिसका कोई सिर पैर नहीं होता है जिसपर जवाब भी नहीं मिलता है वहीं सुशील मोदी ने कई ऐसे कार्य किए हैं जिनपर आरोप लगा है लेकिन पत्रकार पक्षपात करते हुए उनसे सवाल नहीं कर रहे हैं। जिससे साफ लगता है कि पत्रकारिता पूर्वाग्रह से ग्रसित हो गई है। पत्रकारों में यह हिम्मत नहीं है कि जो जाकर उनसे सवाल करे। tejsawi yadav slams media 

रजनीकांत अनपढ़ है उन्हें आधुनिक राजनीति से दूर रहना चाहिए: सुब्रमण्यन स्वामी

गौरतलब है कि पिछले कई दिनों से सुशील मोदी ने लालू प्रसाद और उनके परिवार को अवैध संपत्ति अर्जित करने के मामले में लगातार आरोप लगा रहे हैं जिसके बाद से लालू प्रसाद भी तिलमिला कर भाजपा पर लगातार हमले कर रहे हैं। tejsawi yadav slams media 

जमीन घोटाले मामले में अब बिहार की राजनीति गरमाई गई है और यहां सरकार लालू प्रसाद के सहयोग से ही चल रही है। ऐसा माना जा रहा है कि नीतीश कुमार अब सब समय का इंतजार कर रहे हैं कभी भी गठबंधन तोड़कर भाजपा के साथ जा सकते हैं। tejsawi yadav slams media