सैकड़ों मुसलमानों की निर्मम हत्या



जबसे हिन्दुस्तान में मोदी की सरकार बनी है तबसे इस देश में, सेक्युलरवादियों धंधा खूब फूलने -फलने लगा है। इतना ही नहीं इस देश के एससी एवं एसटी के सीधे साधे लोगों को, आईएसआईएस अपने जाल में फांसकर आतंक फैलाने कि साजिश कर रहा है। terrorist killed hundred muslims

अगर कहीं कोई घटना अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों के साथ घट जाती है तो भारी हंगामा होता है। इसे इलेक्टॉनिक,प्रिंट और सोसल मीडिया पर खूब प्रचारित किया जाता है।

जबकि इसके विपरीत जब किसी बहुसंखयक के साथ या जहां हिन्दुस्तान में हिन्दू अल्प संख्यक हैं,वहां जब इनके ऊपर अत्याचार होता है तो वहां कोई नहीं बोलता।ऐसा लगता है अपने ही देश में लोग यहां शरणार्थी बने हुए हैं। जबकि आईएसआईएस ने साफ़ तौर पर कह दिया है की पाकिस्तान और बांग्लादेश हमारे टारगेट हैं।

हिन्दुस्तान में हिन्दू अल्प संख्यक हैं terrorist killed hundred muslims

इतना ही नहीं उन्होंने पाकिस्तान और बांग्लादेश में बने अपने ठिकानों से भारत पर हमला करने की भी सोच रहा है। मगर ये सबसे हैरान करने बाले तथ्य ये है की अभी इनके हमलों का शिकार मुख्य रूप से इस्लामिक देश ही हो रहे है।

ये भी सच है की कभी कभी गैर इस्लामिक देशों में भी इनके दहशत की गूंज सुनाई देती है। जैसे अभी बंग्लादेश और बगदाद में जो आईएसआईएस ने जो खुनी खेल खेला है.terrorist killed hundred muslims

पाकिस्तान ने किया था बांग्लादेश पर हमला

उसमें भी अधिकाँश हताहत मुस्लमान ही हैं। कहते हैं घर के दूत भूत भय निकले कौन के ओझाई। कल सुबह बगदाद के एक व्यस्त बाजार में आईएसआईएस ने आत्मघाती विस्फोट किया जिसमें अभी तक 170 लोगों की मौत हो गई और 200 से अधिक लोग गम्भीर रूप से घायल हैं। terrorist killed hundred muslims

इतना ही नहीं ढाका बांग्लादेश में जो आईएसआईएस का हमला हुआ वह विदेशियों को टारगेट करके किया गया। इसमें 20 लोगों की मौत हुई,जिसमें एक भारत की छात्रा भी थी।terrorist killed hundred muslims

बंगाल के खलीफा अबु अब्राहम अल हनीफ ने दावा किया है,कि एक बार आईएसआईएस बंगाल में सेट हो जाय फिर वो दिन दूर नहीं जब बांग्लादेश और पाकिस्तानी ठिकानों से आसानी भारत के ईस्ट वेस्ट में आतंकी हमले आसानी से किये जा सकेंगे। terrorist killed hundred muslims
( हरि शंकर तिवारी )