ट्रेड यूनियनों की महा-हड़ताल से देश में आम जीवन अस्त व्यस्त




न्यूनतम वेतन बढ़ाने की मांग को लेकर आज देश भर में ट्रेड यूनियनों की महा हड़ताल हैं जिससे बैंकिंग सेवा, सार्वजानिक परिवहन सेवा और टेलीकॉम सेवा पूरी तरह से प्रभावित हुआ है। जबकि ट्रेड यूनियनों की महा हड़ताल को लेकर केंद्र सरकार ने सभी मंत्रालयों को महा हड़ताल से निपटने के लिए कारगर कदम उठाने का आदेश दिए हैं। वही ट्रेड यूनियनों का कहना है यदि सरकार उनकी मांगों को पूरी नहीं करती है तो हड़ताल आगे भी जारी रहेगी। trade union strike today 

राहुल गाँधी आरएसएस के सामने गिड़गिड़ाया, आरएसएस ने नहीं किया माफ़

सूत्रों की माते तो यह एक दिवसीय महा हड़ताल हैं जिसमें देश भर के कुल 18 करोड़ कर्मचारी शामिल हुए हैं। ट्रेंड यूनियनों की हड़ताल से देश की जनता को काफी दिकत्तो का सामना करना पड़ रहा हैं इसका सबसे ज्यादा असर सार्वजानिक परिवहन पर देखने को मिल रहा हैं, सभी अंराज्यीय बस अड्डों पर आज बस सेवा ठप्प है। trade union strike today 

इस बाबत लोगों में घर न पहुंचने की शिकन साफ़ देखी जा सकती है। नई दिल्ली स्थित कश्मीरी गेट अंतराजीय बस अड्डा पर पंजाब, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश आदि राज्य के लोग बस पकड़ते है जंहा आज हड़ताल होने के कारण इनलोगों को रात यही पर गुजारनी पड़ सकती है। कुछ लोगों का कहना है की वो अपने रिश्तेदारत के यंहा आये थे आज जाना था लेकिन आज हड़ताल है ! अब कैसे जाएं। फिर से रिश्तेदार के यहाँ रुकना पड़ेगा। trade union strike today 

हड़ताल में  कुल 18 करोड़ कर्मचारी शामिल हुए हैं

कई जगहों पर तो गुस्साए लोगो ने बसों के सात तोड़फोड़ शुरू कर दी यह नजारा पश्चिम बंगाल और बिहार के बीच एक जिले कूच में देखने को मिला जहां सार्वजानिक बस के साथ तोड़फोड़ किया गया, घटना के बाद पश्चिम बंगाल पुलिस ने उपद्रवियों को गिरफ्तार किया। trade union strike today 

उधर पश्चिम बंगाल में टीएमसी और सीपीएम के कार्यकर्ता आपस में भिड़ गए और विवाद इतना गहरा गया कि दोनों पक्षों के बीच हाथापाई की नौबत आ गई। मौके पर पुलिस ने पहुंचकर विवाद को शांत किया और दोनों पार्टियों के कुछ कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार भी किया। कुल मिलाकर कह सकते है की ट्रेंड यूनियनों के हड़ताल से आम जीवन पूरी तरह से प्रभावित हुआ है।  trade union strike today 
( सलोनी पांडेय )