यूपी में अब किसको डर लगता है





उत्तर प्रदेश में तेजी से बदलाव आए हैं। जैसे ही सरकार बदली है कई चीजें अपने आप बदल गई।  आप यदि दिल्ली एनसीआर नोयडा, गाजियाबाद की सड़कों पर पिछले तीन चार दिनों से गौर किए हों तो एक बड़ा बदलाव देखने को मिल रहा है। अब स्कॉर्पियो और टोयटा सफारी जैसी लंबी-लंबी गाडि़यों से समाजवादी पार्टी के झंडे गायब हैं। uttar pradesh yogi govt 

आम आदमी को राहत मिलने वाली है

आपको याद होगा ये झंडे गायब नहीं होते थे इसके बदले पांच साल बाद बसपा के झंडे लग जाते थे। झंडे ही खौफ के संदेश थे कि आप इनके लिए सड़क छोड़ दें और पुलिस इन्हें रोकने की हैसियत न रखे। यदि ये पुलिस को पीट दें तो कोई रपट दर्ज न हो। ऐसे में आम आदमी की हैसियत क्या। आज यह सब गायब है। uttar pradesh yogi govt 

यूपी सरकार ने साफ कह दिया है कि या तो गुंडई छोड़े या प्रदेश। ऐसे यह मुख्यमंत्री के कहने के पहले ही सबने दुकान समेट लिया है और अब अपने अपने काम धंधें में जुट गए हैं। ऐसा नहीं है कि केवल छोटे नेताओं में बदलाव आया है बल्कि अधिकारियों में भी बदलाव आ गया है। और अब काम पर लग गए हैं और जाति आधारित कार्रवाई नहीं हो रही है। uttar pradesh yogi govt 

कोरम पर कोहराम

यहां तक कहा जा रहा है कि कई ने तो यादव से अपना टाइटल सिंह कर लिया है। दिल्ली एनसीआर के बोर्डर पर अब यूपी पुलिस दिख रही है जिससे अब जहां जाम नहीं मिल रही है वही महिलाओं में सुरक्षा की भावना भी जगी है। पहले तो यहां पुलिस का कहीं अता पता भी नहीं होता था। uttar pradesh yogi govt 
निश्चित तौर पर अब तेजी से बदलाव आए हैं अब कह सकते हैं कि यूपी में अब डर अपराधियों को लग रहा है और आम आदमी को राहत मिली है। अभी प्रदेश सरकार को कई तरह की नीतियों का खुलासा करना है जिससे आम आदमी को राहत मिलने वाली है।  uttar pradesh yogi govt