वीर दामोदर सावरकर गद्दार था: राहुल गांधी




नई दिल्ली, veer savarkar wastraitor

मोदी लहर में न केवल कांग्रेस की नैय्या डूब गई है बल्कि बचे-कूचे नैय्या पर सवार नेताओं की मति भी भ्रष्ट हो गई है। कांग्रेस के कई दिग्गज और वरिष्ठ नेताओं के जुबान पर मानों कोई लगाम ही नहीं है। कांग्रेस पार्टी के कुछ अज्ञानी नेताओं का तो कहना ही क्या है ? कभी कुछ तो कभी कुछ बोल जाते है और जब मीडिया इसे हाईलाइट करती है तो पुराने अंदाज में बस सॉरी बोल कर निकल जाते है। veer savarkar wastraitor

इसी बड़बोलेपन का परिणाम है की कांग्रेस ने महान स्वतंत्रता सेनानी वीर दामोदर सावरकर को गद्दार की संज्ञा दे डाली। इस संदर्भ में सवारकर परिवार ने गांधी परिवार और कांग्रेस पार्टी पर मानहानि का मुकदमा दर्ज कराया है और इस सम्बन्ध में १६ जून को कोर्ट ने गांधी परिवार को नोटिस भेजा है। इस नोटिस में कांग्रेस पार्टी को सावरकर परिवार से माफ़ी मांगने की बात की गई है। नोटिस मिलने के 48 घंटे के भीतर कांग्रेस पार्टी और उनके अधिकारीयों को सावरकर परिवार से माफ़ी मांगने का आदेश दिया गया है। veer savarkar wastraitor

मोदी से अधिक राहुल गांधी विदेश जाते है !

आपको बता दें की मार्च 5, 22 और 23 को कांग्रेस पार्टी ने सोसल साइट ट्विटर पर एक ट्वीट किया था जिसमें कहा गया था कि भगत सिंह गुलामी से बचने के लिए फांसी पर लटक गये जबकि वीर दामोदर सावरकर ब्रिटिश हुकूमत से गुलाम बनने के लिए भीख मांगते रहते थे। veer savarkar wastraitor

कांग्रेस के इस ट्वीट से एक ईमानदार और महान स्वतंत्रता सेनानी का अपमान हुआ है। पहले तो कांग्रेस ने देश को खूब लूटा किन्तु अब जनता जाग गई है तो कांग्रेस पार्टी इस तरह का बयान और ट्वीट कर लोगों से देशभक्ति का प्रमाण पत्र हासिल करना चाहती है किन्तु अब तो एक ही मूल मन्त्र की चारो ओर गूंज है मेरा देश बदल रहा है, आगे बढ़ रह है। veer savarkar wastraitor