3 जनवरी को खेला जाएगा यमुना चैलेंज ट्रॉफी क्रिकेट प्रतियोगिता का फाइनल मैच




भाजपा दिल्ली प्रदेश द्वारा आयोजित यमुना चैलेंज ट्रॉफी क्रिकेट प्रतियोगिता का फाइनल मैच कल दिनांक 3 जनवरी को फिरोजशाह कोटला मैदान पर होगा फाइनल मैच का शुभारंभ दिल्ली पुलिस आयुक्त श्री अमूल्य पटनायक द्वारा टास उछाल कर प्रातः 10:30 बजे किया जाएगा जबकि फाइनल मैच की विजेता और उपविजेता टीमो को ट्रॉफी एवं पुरस्कार दिल्ली के उपराज्यपाल श्री अनिल बैजल द्वारा दिया जाएगा। yamuna challenge trophy match 

फाइनल मैच जीतने वाली टीम को रू. 5,00,000 का पुरस्कार एवं उप विजेता टीम को तीन लाख रूपये का पुरस्कार दिया जाएगा जबकि प्रतियोगिता के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी को टाटा नैनो कार पुरस्कार स्वरूप दी जाएगी। क्वार्टर फाइनल में पहुंचने वाली टीमों को 50,000 एवं सेमीफाइनल में पहुंचने वाली टीमों को 60,000 रूपये का पुरस्कार फिरोजशाह कोटला मैदान पर दिया जाएगा जबकि महिला विजेता टीम को एक लाख एवं उपविजेता टीम को 50,000 रू. का पुरस्कार दिया जाएगा। yamuna challenge trophy match 

प्रतिभा के विकास के लिए कृतसंकल्प है। yamuna challenge trophy match

फाइनल मैच को ऐतिहासिक बनाने के लिए आयोजक एवं भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष श्री मनोज तिवारी ने भाजपा दिल्ली प्रदेश के पदाधिकारियों की एक विशेष टीम बनाई जिनको अलग-अलग व्यवस्थाओं की जिम्मेदारी दी गई है। तैयारियों का जायजा लेने के लिए पूरी आयोजन समिति के साथ स्वयं श्री मनोज तिवारी ने आज फिरोजशाह कोटला मैदान का निरीक्षण किया। yamuna challenge trophy match 

निरीक्षण करने के बाद तैयारियों पर संतोष व्यक्त करते हुए श्री मनोज तिवारी ने कहा कि यह पहला मौका होगा जब किसी राजनीतिक पार्टी के द्वारा इतने बड़े आयोजन के माध्यम से युवाओं को प्रेरित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी द्वारा किया गया यह आयोजन उन युवाओं के लिए खुला आमंत्रण है जो सुविधाओं के अभाव में अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन नहीं कर पाते हैं। उन्होंने युवाओं से आह्वान किया कि वह घरों से निकलकर भारतीय जनता पार्टी के साथ आएं। भारतीय जनता पार्टी युवाओं के व्यक्तित्व एवं प्रतिभा के विकास के लिए कृतसंकल्प है।  yamuna challenge trophy match 

अब ‘पद्मावती’ नहीं बल्कि पद्मावत रिलीज होगी

इस अवसर पर श्री मनोज तिवारी के अलावा आयोजन समिति के पदाधिकारी श्री मोहन लाल गिहारा, श्री नीलकांत बख्शी, श्री जगत पहलवान, श्री विनयमणि त्रिपाठी, श्री अशोक गोयल, श्री शैलेंद्र सिंह मोंटी, डॉ. यू.के. चैधरी, श्री पंकज जैन, दिल्ली पुलिस, दक्षिणी दिल्ली नगर निगम एवं फिरोजशाह कोटला मैदान प्रशासन के अधिकारी मौजूद रहे। yamuna challenge trophy match 

कोलन में पोलिप्स और ट्यूमर का घरेलु उपाय




Leave a Reply