यशवंत सिन्हा के गांधीगिरी से कांग्रेस उत्साहित




पूर्व वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा ने बीजेपी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। उन्होंने मोदी सरकार की किसान नीतियों का विरोध करते हुए महाराष्ट्र के अकोला में आंदोलन छेड़ दी है । बता दें जब यशवंत सिन्हा किसानो के साथ जिलाधिकारी कार्यालय के बाहर धरने पर बैठे थे। उस समय पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया। कुछ घंटों के बाद पुलिस यशवंत सिन्हा को रिहा करने के लिए राजी थी लेकिन यशवंत सिन्हा ने रिहा होने से इंकार कर दिया। जिसके बाद यशवंत सिन्हा ने पुलिस मुख्यालय में स्थित एक पेड़ के नीचे चबूतरे पर सोकर रात बिताई। yashwant sinha gandhi giri

कांग्रेस नहीं चाहती है अयोध्या में राममंदिर बने

इस बारे में राज्य के राजस्व मंत्री चंद्रकांत पाटील ने कहा कि यशवंत सिन्हा की सभी शर्तों को मान लिया गया है। उन्हें अब आमरण अनशन तोड़ लेना चाहिए और बातचीत के लिए आगे आना चाहिए। यदि वे अनशन नहीं तोड़ेंगे तो बातचीत आगे कैसे बढ़ेगी। उन्होंने कहा यदि माननीय मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस कहेंगे तो मैं उनसे बात करने को तैयार हूँ। yashwant sinha gandhi giri

खूबसूरती चाहिए तो भीगा बादाम खाएं







Leave a Reply