पाकिस्तान में शुरू हुआ आपसी कलह,ज़रदारी ने शरीफ को धमकाया





पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ भ्रष्टाचार के आरोपों में घिरे हुए हैं जिसको लेकर उनपर अब चारों तरफ से हमले हो रहे हैं। विपक्ष उनसे इस्तीफा की मांग कर रहा है। वहीं सेना से भी उनके संबंध अच्छे नहीं हैं।पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी ने नवाज शरीफ पर भ्रष्टाचार के मामले को लेकर हमले किए हैं और कहां कि नवाज शरीफ को इस्तीफा दे देना चाहिए। क्योंकि उनपर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगे हुए हैं। अगर सचमुच में वे निर्दोष हैं तो शेर की तरह आरोपों का सामना करें। जरदारी ने कहा है कि नवाज शरीफ शेर की तरह बहादुर बनिए क्योंकि उन्होंने चुनावों में अपना प्रतिनिधित्व करने के लिए शेर का चिह्न चुना है। zardari ne sharif ko dhamkaya





जरदारी ने कहा कि पीएमएलएन के पास पूर्ण बहुमत है इसलिए अपना कार्यकाल पूरा करते हुए प्रधानमंत्री बदल सकते हैं। लेकिन जिस प्रकार से भ्रष्टाचार के आरोप लगे इसकी निष्पक्ष जांच तभी होगी जब वे इस्तीफा देंगे। गौरतलब है कि नवाज शरीफ का पूरा परिवार पनामा गेट घोटाला में फंसा है।वाज शरीफ एवं उनका परिवार पनामा पेपर्स में हुए खुलासे के मुद्देनजर विदेश में संपत्तियों की जांच कर रहे संयुक्त जांच दल के समक्ष पेश हुआ है। पनामा गेट मामले में नवाज शरीफ की बेटी मरियम शरीफ जेआईटी के सामने पहली बार पेश हुई थी। यहां तक कि नवाज शरीफ खुद प्रधानमंत्री पद पर रहते हुए जेआईटी के सामने पेश होने वाले पहले वजीर ए आला हैं। जिस प्रकार से नवाज शरीफ भ्रष्टाचार के आरोपों में घिरे इससे तो यही स्पष्ट होता है कि पाकिस्तान में कभी भी राजनीतिक गतिविधि तेज हो सकती है। क्योंकि सेना पहले से नवाज शरीफ से नाराज है। zardari ne sharif ko dhamkaya

हेल्थी पोहा बनाने का आसान तरीका || 

खासकर बोर्डर पर जिस प्रकार से भारत ने कार्रवाई की और चेतावनी दी है उसके बाद पाकिस्तान के पास कोई जवाब नहीं बचा है। कुलभूषण जाधव के फांसी के मामले में भी नवाज शरीफ सरकार और सेना आमने सामने हैं। दूसरी तरफ विपक्ष के तेवर लगातार कड़े होते जा रहे हैं। ऐसे में नवाज शरीफ को उनके परिवार पर लगे भ्रष्टाचार के आरोप (पनामा गेट) से मुश्किलें और बढ़ सकती हैं।

loading…