मुम्बई में यदि जिन्ना का घर गिरा तो मुबई पर फिर हमला होगा: पाकिस्तान।




देश में कई ऐसे विरासत की चीजें हैं जिसपर विवाद है। उसे धरोहर माना जाता है। और उसे सुरक्षित रखा जाता है। मुंबई स्थित जिन्ना का घर धरोहर ही है। जिसे किराए पर नहीं देने की मांग जिन्ना ने जवाहर लाल नेहरू से किया था। तब से वह वैसे ही है। और वाडिया परिवार तो इसके लिए दावेदारी भी ठोंक रही है। अभी भी वे अपने तर्कों के साथ कोर्ट में है। ताकि उसे यह बंगला हासिल हो सके। लेकिन बीच बीच में यह मांग उठती रही है कि क्यों ना इसे तोड़ दिया जाए। यह विभाजन का प्रतीक है। zinna house ko toda jayega

पाकिस्तान की ओर से तल्खी भरी प्रतिक्रिया आएगी

जिन्ना का नाम आते ही पाकिस्तान का नाम आता है जिसको लेकर हर देश वासी के मन में तल्खी है। आखिर क्यों जिन्ना का घर यहां सुरक्षित रहे। सरकार को पहले ही इसमें कुछ ऐसी व्यवस्था कर देनी चाहिए थी जिससे की विवाद ना हो। दरअसल सरकार सत्तर सालों में ऐसे बहुत से विवादित जगह हैं जिसपर कोई निर्णय नहीं लिया है जिससे आज समस्या पैदा हो रही है। जिन्ना का घर कई मायनों में महत्वपूर्ण हो जाता है अगर इसे तोड़ा गया तो तय है कि पाकिस्तान से इसपर तीखी प्रतिक्रिया आएगी। zinna house ko toda jayega

सूर्य नमस्कार और योग करेंगी मुस्लिम महिलाएं।

कट्टरपंथी इसी फिराक में रहते हैं कि ऐसे मुद्दे को छेड़ा जाए जिससे की अपने समर्थकों को बढ़ाया जा सके। जिससे वे अपने कार्यों में सफल हो सके। इस मुद्दे को उठाकर कट्टरपंथी अपना और कार्य करने की कोशिश में लगे होते हैं। सरकार ने जो कानून पास किए हैं इसके तहत अब इसे ले सकती है जिसको लेकर अब मांग उठ रही है कि क्यों न इसे सांस्कृतिक केंद्र बना दिया जाए। हालांकि अभी इतना आसान नहीं है क्योंकि वाडिया परिवार कोर्ट में है और वह तर्कों के साथ दावेदारी ठोंक रही है ऐसे में अगर सरकार कोई कदम उठाती है तो तय है कि विवाद उत्पन्न होगा और पाकिस्तान की ओर से तल्खी भरी प्रतिक्रिया आएगी। zinna house ko toda jayega