पंजाब में बनेगी आप की सरकार, गोवा और गुजरात में भी लगाएगी दांव




अगले वर्ष देश के पांच राज्यों में विधान सभा चुनाव होना है जिसमें उत्तर प्रदेश, पंजाब, उत्तराखंड, गोवा और गुजरात राज्य है। यदि राजनीति परिपेक्ष्य देखा जाए तो इन राज्यों में विशेष बदलाव आने की संभावना है। पंजाब की ताजा स्थिति का आकलन इस बात से लगाया जा सकता है कि पंजाब के बीजेपी सांसद नवजोत सिंह सिद्धू आप में शामिल हो गए है। ये एक बदलाव का परिणाम है। पंजाब में दिल्ली की पुनरावृति करने के लिए आप पूरी तरह से तैयार है। aap can win punjab election

यह बात और है की केजरीवाल दिखाते कुछ हैं और करते कुछ और जैसे की दिल्ली में शराब की बिक्री बढ़ने के लिए 50 से अधिक नयी दुकाने खोल दिया है और पंजाब में नशा बंदी का नारा लगा रहा है। यूँ तो कहावत है की ये पब्लिक है सब जानती है। aap can win punjab election

लेकिन केजरीवाल ने इसे बदल डाला है यहाँ केजरीवाल जैसे बोलता है वोटर वही करता है। आज दिल्ली की जनता रो रही है। कल पंजाब की बारी  है खैर ये हमारा विषय नहीं है हम तो खबर लिखते है कुछ को अच्छा लगता है कुछ को बुरा लेकिन लिखना जारी रखना हमारे लिए ज्यादा महवपूर्ण है। aap can win punjab election

2014 लोकसभा चुनाव में आप को पंजाब में चार सीट मिली थी जबकि दिल्ली में एक भी सीट नहीं मिली थी। लोकसभा में करारी शिकस्त के बाबजूद केजरीवाल ने हिम्मत नहीं हारी और दिल्ली विधान सभा चुनाव में दिन-रात एक कर अपनी पार्टी की जीत सुनिश्चित की। उसी हौसले और परिणाम की पुनरावृति के लिए केजीरवाल ने पंजाब में काम करना शुरू कर दिया है। नतीजा जो भी हो aap can win punjab election

मोदी सरकार ने कश्मीर की 10 साल की शांति 2 साल में छीन ली : सोनिया गाँधी  

उधर आप का क्रेज गुजरात में भी बढ़ाने के लिए काफी मसक्कत की जा रही है आप पार्टी को महसूस हो रहा है की यहाँ बीजेपी कमजोर हो रही है इसका फायदा उठाया जाय लेकिन बीजेपी ने यहाँ अपनी रणनीति बदलकर काफी हद तक अपने को डिफेंसिव मोड में कर लिया है aap can win punjab election

ये पब्लिक है सब जानती है  aap can win punjab election

पंजाब में जिस तरह से युवा वर्ग नशे की लत में अपने जीवन को बर्बाद कर रहा है उसमें कही न कही सरकार की भी भागीदारी है ( इसका उधारण बिहार है जंहा शराब पर प्रतिबंध है)। यदि पंजाब में इस तरह का कानून लागु होता है तो पंजाब की स्थिति बदल सकती है। इसके लिए पंजाब की बदल सरकार को ठोस कदम उठानी चाहिए तभी सत्ता में वापसी की सम्भावना बनती है नहीं तो कुछ भी हो सकता है। aap can win punjab election

हल ही में फिर से तथा कथित सेकुलर राग जगह जगह सुनाई देने लगी है। उसपर से मोदी जी के गौ रक्षा वाले बयान को गलत तरीके से लोगों तक पहुंचाना भी बीजेपी को नुकशान पहुंचा सकती है। केजरीवाल की गन्दी राजनीति से लड़ने के लिए बीजेपी के पास कोई चेहरा भी नहीं दिख रहा है आने वाला समय गन्दी राजनीति की और इशारा करती नजर आ रही है इसलिए हमारा काम है आगाह करना वो हमने लिख दिया है बाकी जनता नहीं अब केजरीवाल सब जनता है की किसे कैसे पटाना है। aap can win punjab election




Web Statistics